Saturday, April 21, 2018

Breaking News

   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||   रेलवे की 90 हजार नौकरियों के आवेदन की आज लास्ट डेट, दो करोड़ 80 लाख कर चुके हैं अप्लाई     ||   कांग्रेस में बड़ा बदलाव: जनार्दन द्विवेदी की छुट्टी, गहलोत बने नए AICC महासचिव     ||   भारत ने चीन की तिब्बत सीमा पर भेजे और सैनिक, गश्त भी बढ़ाई     ||   अब कॉल सेंटर की नौकरियों पर नजर, अमेरिकी सांसद ने पेश किया बिल     ||   ब्लूमबर्ग मीडिया का दावा, 2019 छोड़िए 2029 तक पीएम रहेंगे नरेंद्र मोदी     ||   फेसबुक को डेटा लीक मामले से लगा तगड़ा झटका, 35 अरब डॉलर का नुकसान     ||

अरुण जेटली ने केजरीवाल को माफ करने के रखी शर्त, कहा-सभी नेता को मांगनी पड़ेगी माफी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अरुण जेटली ने केजरीवाल को माफ करने के रखी शर्त, कहा-सभी नेता को मांगनी पड़ेगी माफी

नई दिल्ली। मानहानि के मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पंजाब के अकाली नेता विक्रम मजीठिया, भाजपा नेता नितिन गडकरी और कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल ने भले ही माफ कर दिया हो लेकिन भाजपा के नेता और देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली उन्हें माफी देने से इंकार कर दिया है। बताया जा रहा है कि केजरीवाल ने पार्टी के राज्यसभा सांसद एनडी गुप्ता को अरुण जेटली का मान भांपने के लिए भेजा था, अरविंद केजरीवाल जानना चाहते थे कि अगर वे उनसे माफी मांग लेते हैं तो क्या जेटली मानहानि का मुकदमा वापस ले लेंगे!

आपको बता दें कि अरुण जेटली ने कहा है कि वे केजरीवाल की माफी उसी सूरत में स्वीकार करेंगे जब पार्टी के वे सभी नेता माफी मांगेगे जिनके खिलाफ उन्होंने मुकदमा किया है। गौर करने वाली बात है कि इसमें ‘आप’ के राज्यसभा सांसद संजय सिंह और दूसरे नेता आशुतोष भी शामिल हैं। ऐसे में देखना है कि कोर्ट कचहरी के चक्कर से बचने के लिए केजरीवाल अपनों को कैसे मनाते हैं।


ये भी पढ़ें -झारखंड-ओडिशा बाॅर्डर पर वायुसेना का हैलीकाॅप्टर दुर्घटनाग्रस्त, बाल-बाल बची पायलट की जान

गौरतलब है कि केजरीवाल और पार्टी के नेताओं ने अरुण जेटली पर डीडीसीए के अध्यक्ष रहते हुए भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाए थे। जेटली ने जवाब में केजरीवाल और उनके 8 साथियों पर मानहानि के मुकदमे ठोक दिए वो भी एक आपराधिक और दूसरी सिविल। केजरीवाल के वकील रामजेठमलानी द्वारा जिरह के दौरान जेटली के लिए अपशब्द का प्रयोग करने के बाद इस पर एक और मामला अदालत में दायर कर दिया गया। 

Todays Beets: