Monday, October 23, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

बाढ़ पीड़ितो से मिलने गए राहुल गांधी को दिखाए काले झंड़े, पत्थर मार कार का शीशा तोड़ा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बाढ़ पीड़ितो से मिलने गए राहुल गांधी को दिखाए काले झंड़े, पत्थर मार कार का शीशा तोड़ा

अहमदाबाद। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को गुजरात में आई बाढ़ के पीड़ितों से मिलने के लिए पहुंचे। इस दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने पीड़ितों का आश्वासन दिया कि कांग्रेस उन लोगों के साथ हर हाल में खड़ी रहेगी, लेकिन इस दौरान वहां मौजूद लोगों का एक गुट उन्हें काले झंड़े दिखाने लगा। इतना ही नहीं एकाएक वहां मोदी-मोदी के नारे लगने शुरू हो गए। इसके बाद अपनी कार में सवार होने के दौरान किसी ने उनकी कार पर जमकर पथराव किया, जिसमें उनकी कार का शीशा टूट गया। संयोग रहा कि राहुल गांधी को कोई चोट नहीं लगी। इस घटना के बाद कुछ देर के लिए इलाके में कांग्रेस और भाजपा के कार्यकर्ताओं के भिड़ने की भी खबरें हैं। 

बता दें कि राज्य में आई बाढ़ से पीड़ित परिवारों से मुलाकात करने के लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सुबह गुजरात के बनासकांठा में पहुंचे, जहां बाढ़ ने सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। कार से मौके पर पहुंचने के दौरान कुछ लोगों ने उन्हें काले झंडे दिखाए। इस दौरान कुछ लोगों ने उनकी कार पर पथराव किया, जिसमें राहुल गांधी की कार का शीशा टूट गया। हालांकि राहुल को कोई चोट नहीं आई। बाद में कुछ लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम को कुछ लोगों की साजिश करार दिया।


उन्होंने कहा-उन लोगों को काले झंडे दिखाने दो। मैं उनसे नहीं डरता। इन लोगों ने काले झंडे दिखाए है तो चले देखते हैं इन लोगों में कितना दम है। मैं गाड़ी से निकला तो वो 8 या 10 थे लेकिन वे पत्थर मार भाग गए। सच्चाई ये है कि वो डरपोक लोग हैं। महात्मा गांधी ने ये सिखाया है कि पत्थरों से और नरेंद्र मोदी के लोगों से डरने की जरूरत नहीं है। मैं यहां लोगों का दुख देखने आया हूं। हमारे पास गुजरात और हिंदुस्तान में सरकार नहीं है पर सांसद हैं लोकसभा और राज्यसभा में। जो भी हो सकेगा हम आपकी मदद करेंगे।

इसके बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने इस घटना को भाजपा की सोची समझी साजिश करार देते हुए उनके डर को इस तरह से उजागर करने की बात कही। प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने राहुल की कार के फोटो ट्वीट किए। कहा- भाजपा के गुंडों ने राहुलजी की कार पर लाल चौक में हमला किया। वहीं अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा- ये भाजपा की साजिश है। इसकी कड़े शब्दों में निंदा करनी चाहिए। ये बीजेपी का सही चाल, चरित्र और चेहरा दिखाती है। इसी क्रम में कांग्रेसी नेता अहमद पटेल ने कहा- मैं इसकी निंदा करता हूं। ये पहले से तैयारी थी। सरकार ने विफलताओं को छुपाने के लिए ये हमले कराए। जो जिम्मेवार हैं उनके खिलाफ कारईवाई होनी चाहिए। 

Todays Beets: