Tuesday, August 22, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

बाढ़ पीड़ितो से मिलने गए राहुल गांधी को दिखाए काले झंड़े, पत्थर मार कार का शीशा तोड़ा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बाढ़ पीड़ितो से मिलने गए राहुल गांधी को दिखाए काले झंड़े, पत्थर मार कार का शीशा तोड़ा

अहमदाबाद। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को गुजरात में आई बाढ़ के पीड़ितों से मिलने के लिए पहुंचे। इस दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने पीड़ितों का आश्वासन दिया कि कांग्रेस उन लोगों के साथ हर हाल में खड़ी रहेगी, लेकिन इस दौरान वहां मौजूद लोगों का एक गुट उन्हें काले झंड़े दिखाने लगा। इतना ही नहीं एकाएक वहां मोदी-मोदी के नारे लगने शुरू हो गए। इसके बाद अपनी कार में सवार होने के दौरान किसी ने उनकी कार पर जमकर पथराव किया, जिसमें उनकी कार का शीशा टूट गया। संयोग रहा कि राहुल गांधी को कोई चोट नहीं लगी। इस घटना के बाद कुछ देर के लिए इलाके में कांग्रेस और भाजपा के कार्यकर्ताओं के भिड़ने की भी खबरें हैं। 

बता दें कि राज्य में आई बाढ़ से पीड़ित परिवारों से मुलाकात करने के लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सुबह गुजरात के बनासकांठा में पहुंचे, जहां बाढ़ ने सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। कार से मौके पर पहुंचने के दौरान कुछ लोगों ने उन्हें काले झंडे दिखाए। इस दौरान कुछ लोगों ने उनकी कार पर पथराव किया, जिसमें राहुल गांधी की कार का शीशा टूट गया। हालांकि राहुल को कोई चोट नहीं आई। बाद में कुछ लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम को कुछ लोगों की साजिश करार दिया।


उन्होंने कहा-उन लोगों को काले झंडे दिखाने दो। मैं उनसे नहीं डरता। इन लोगों ने काले झंडे दिखाए है तो चले देखते हैं इन लोगों में कितना दम है। मैं गाड़ी से निकला तो वो 8 या 10 थे लेकिन वे पत्थर मार भाग गए। सच्चाई ये है कि वो डरपोक लोग हैं। महात्मा गांधी ने ये सिखाया है कि पत्थरों से और नरेंद्र मोदी के लोगों से डरने की जरूरत नहीं है। मैं यहां लोगों का दुख देखने आया हूं। हमारे पास गुजरात और हिंदुस्तान में सरकार नहीं है पर सांसद हैं लोकसभा और राज्यसभा में। जो भी हो सकेगा हम आपकी मदद करेंगे।

इसके बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने इस घटना को भाजपा की सोची समझी साजिश करार देते हुए उनके डर को इस तरह से उजागर करने की बात कही। प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने राहुल की कार के फोटो ट्वीट किए। कहा- भाजपा के गुंडों ने राहुलजी की कार पर लाल चौक में हमला किया। वहीं अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा- ये भाजपा की साजिश है। इसकी कड़े शब्दों में निंदा करनी चाहिए। ये बीजेपी का सही चाल, चरित्र और चेहरा दिखाती है। इसी क्रम में कांग्रेसी नेता अहमद पटेल ने कहा- मैं इसकी निंदा करता हूं। ये पहले से तैयारी थी। सरकार ने विफलताओं को छुपाने के लिए ये हमले कराए। जो जिम्मेवार हैं उनके खिलाफ कारईवाई होनी चाहिए। 

Todays Beets: