Friday, October 20, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

चीन ने भारत को फिर दी धमकी, अगर कालापानी या कश्मीर में चीन घुस जाए, तो क्या करेगा भारत

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चीन ने भारत को फिर दी धमकी, अगर कालापानी या कश्मीर में चीन घुस जाए, तो क्या करेगा भारत

नई दिल्ली।

सिक्किम में जारी डोकलाम विवाद को लेकर चीन लगातार भारत को धमकी दे रहा है। चीन ने  भारत से अपनी सेना पीछे करने को कहा है, लेकिन भारत पर उसकी इन गीदड़ भभकियों का कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। अब एक बार फिर से चीन ने भारत को धमकी दी और कहा कि अगर चीन उत्तराखंड के कालापानी या फिर कश्मीर में घुस जाए, तो भारत क्या करेगा। यह धमकी चीन के एक अधिकारी ने दी। यह पहली बार है चीन के किसी अधिकारी ने कश्मीर का जिक्र इस तरह से किया है।

ये भी पढ़ें— युद्ध की धमकियों के मद्देनजर रक्षा मंत्रालय ने केंद्र से मांगा 20 हजार करोड़ का अतिरिक्त बजट

चीन के विदेश मंत्रालय में सीमा और सागर मामलों की उप महा निदेशक वांग वेनली ने कहा कि एक दिन के लिए भी अगर सिर्फ एक भारतीय सैनिक भी विवादित क्षेत्र में रहता है तो भी यह हमारी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि अगर भारत गलत रास्ते पर जाने का फैसला करता है या इस घटना के बारे में कोई भ्रम रखता है तो हमारे पास कोई भी कार्रवाई करने का अधिकार है। वांग एक भारतीय मीडिया प्रतिनिधिमंडल को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने भारत को छेड़ते हुए कश्मीर का मुद्दा उठाया और भारत और नेपाल के बीच के कालापानी विवाद का जिक्र किया।


ये भी पढ़ें— चीन की धमकी, कहा- यह युद्ध की अंतिम चेतावनी, पीछे नहीं हटे तो होगा युद्ध, नेहरू जैसी नादानी न करें

उन्होंने कहा कि इस समय भारत के साथ बातचीत करना नामुमकिन है, अगर ऐसा होता है तो लोग बोलेंगे कि हमारी सरकार अक्षम है। जब तक भारत अपने सैनिकों को वापस नहीं बुलाता है तो बातचीत नहीं हो सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि भारत यह न सोचे की चीन डोकलाम पर प्रतिक्रिया नहीं करेगा। बता दें कि चीन और भारत के बीच डोकलाम को लेकर लगातार विवाद चल रहा है। पिछले दो महीनों से दोनों देशों की सेनाएं आमने—सामने हैं।

ये भी पढ़ें— चीन में जबरदस्त भूकंप से भारी तबाही, 100 की मौत, सैकड़ों जख्मी, 13000 से ज्यादा घरों को नुकसान

Todays Beets: