Sunday, November 19, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

चीन ने दिखाई अपनी ताकत, तिब्बत के पठार पर किया युद्धाभ्यास

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चीन ने दिखाई अपनी ताकत, तिब्बत के पठार पर किया युद्धाभ्यास

बीजिंग।

भारत के साथ सिक्किम में चल रहे गतिरोध के बीच चीन ने तिब्बत के पठार पर युद्धाभ्यास किया। चीनी मीडिया के अनुसार, चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के एक दल ने तिब्बत में गोलीबारी का अभ्यास किया, जिसका मकसद सेना की क्विक डिलीवरी क्षमता को बढ़ाना था। हालांकि यह अभ्यास कब किया गया, इसकी कोई जानकारी नहीं मिली है।

ये भी पढ़ें— चीनी मीडिया की अपनी ही सरकार को हिदायत, भारत की तरक्की से परेशान न हो चीन, शांत रहे

जानकारी के अनुसार,  अभ्यास करने वाला दल ब्रिगेड फ्रंटलाइन कॉम्बैट मिशन के लिए जाना जाता है और काफी लंबे समय से ब्रह्मपुत्र नदी के मध्यम और निचले क्षेत्रों में तैनात है। इसने सैनिकों की जल्द तैनाती से लेकर कई मिलिट्री यूनिट के बीच सामंजस्य का अभ्यास किया।

ये भी पढ़ें— देश के प्रथम नागरिक पद के लिए मतदान आज, रामनाथ गोविंद और मीरा कुमार के बीच होगा मुकाबला

चीनी मीडिया ने  जारी किया वीडिया


चीन की मीडिया ने इस युद्धाभ्यास से संबंधित वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में तोप, होवित्जर और एंटी टैंक ग्रेनेड के साथ राडार यूनिट दिखाया गया है। वीडियो में फौजियों को एंटी टैंक ग्रेनेड और होवित्जर का इस्तेमाल करते दिखाया गया है। चीनी मीडिया के अनुसार,  दुश्मन के विमानों को पहचानने वाली रडार इकाइयों और सैनिकों के तोप चलाने से लेकर टारगेट को ध्वस्त करने का अभ्यास किया गया।

ये भी पढ़ें—  जीएसआई के वैज्ञानिकों ने खोजा भारतीय समुद्रों में छिपा लाखों टन कीमती धातुओं और खनिजों का खजाना

 

 

 

Todays Beets: