Tuesday, October 16, 2018

Breaking News

   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||   सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ मामले में सीबीआई जांच की अर्जी को खारिज किया    ||   मध्यप्रदेश सरकार ने पांच नए सूचना आयुक्त चुने, राज्यपाल को भेजी सिफारिश     ||   बिहार: ASI संग शराब बेच रहा था थानेदार, अरेस्ट     ||

भारत के रूसी तकनीक हासिल करने पर चीन की बढ़ी चिंता, पाकिस्तान को देगा 48 आधुनिक सैन्य ड्रोन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारत के रूसी तकनीक हासिल करने पर चीन की बढ़ी चिंता, पाकिस्तान को देगा 48 आधुनिक सैन्य ड्रोन

नई दिल्ली। रूस के साथ भारत के बड़े रक्षा सौदे से चीन और पाकिस्तान के माथे पर बल पड़ गए हैं। भारत की सुरक्षा प्रणाली के मजबूत स्थिति में आने से चिंतित चीन ने अपने दोस्त पाकिस्तान को 48 आधुनिक सैन्य ड्रोन बेचने का फैसला लिया है। चीन के द्वारा पाकिस्तान के साथ यह अब तक का सबसे बड़ा सौदा है। बता दें कि भारत और रूस के बीच हुए रक्षा सौदों को लेकर अमेरिका ने भारत को प्रतिबंध लगाने की धमकी दी है। इसके साथ ही ईरान से कच्चे तेल के आयात को लेकर भी अमेरिका ने भारत को हिदायत दी है। 

गौरतलब है कि भारत ने अमेरिका की धमकियों के बावजूद ईरान से तेल का आयात जारी रखने का फैसला लिया है। पाकिस्तान को दिए जाने वाले ड्रोन का निर्माण चेंगदू एयरक्राफ्ट इडस्ट्रियल कंपनी ने किया है। यह विमान आधुनिक तकनीक से लैस है, हमला करने के साथ निगरानी एवं अन्य कामों में भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।  


ये भी पढ़ें -कांग्रेस के गढ़ से पीएम मोदी किया चुनावी शंखनाद, रेल कोच रिपेयरिंग कारखाने का किया शिलान्यास  

यहां बता दें कि इस ड्रोन का निर्माण पाकिस्तान और चीन दोनांे मिलकर करेंगे। बता दें कि चीन पाकिस्तान को हथियारांे की आपूर्ति करने वाला सबसे बड़ा देश है। दोनों देश मिलकर थंडर एफ लड़ाकू विमान का उत्पादन करते हैं। गौर करने वाली बात है कि भारत ने हाल ही में रूस के साथ एस 400 सैन्य प्रणाली का सौदा किया है। इससे भारतीय वायुसेना की क्षमता में और ज्यादा इजाफा हो गया है।  

Todays Beets: