Monday, July 23, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

अभी-अभी...दिल्ली के बाइक चालकों पर भी लागू होगा ऑड- इवन, NGT ने शर्तों के साथ दी मंजूरी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अभी-अभी...दिल्ली के बाइक चालकों पर भी लागू होगा ऑड- इवन, NGT ने शर्तों के साथ दी मंजूरी

नई दिल्ली । दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के बढ़ते स्तर को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी ने पिछले दिनों कई आदेश पारित किए। इस सब के बीच दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने एक बार फिर से दिल्ली में ऑड इवन यातायात व्यवस्था को आगामी सोमवार से 17 नवंबर तक के लागू किया, जिस पर एनटीसी ने दिल्ली सरकार को फटकार लगाते हुए इसे लागू करने के बारे में सवाल पूछे थे। दिल्ली सरकार की दलीलों से संतुष्ट होने के बाद शनिवार को एनजीटी ने भी ऑड-ईवन स्‍कीम को राजधानी में लागू करने की शनिवार को सशर्त अनुमति दे दी। एनजीटी ने दिल्‍ली सरकार से कहा कि सीएनजी छोड़कर सभी वाहनों पर ऑड-इवन यातायात व्यवस्था लागू होगी।  दोपहिया वाहनों पर भी यह नियम लागू होगा और उन्‍हें कोई छूट नहीं मिलेगी। केवल एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड को छूट दी जाएगी।  

बता दें कि शुक्रवार को एनजीटी ने कहा था कि वाहनों की ऑड इवन योजना के प्रभावों को जाने बिना इसे राजधानी में लागू करने की इजाजत नहीं दी जा सकती। दिल्ली सरकार द्वारा 13 से 17 नवंबर तक सम-विषम योजना लागू करने के एक दिन बाद एनजीटी ने यह दिशा-निर्देश जारी किया था। दिल्ली सरकार ने दिल्ली व एनसीआर इलाके में गंभीर वायु प्रदूषण से निपटने के लिए सम-विषम की योजना रखी है। एनजीटी ने शुक्रवार को सुनवाई के दौरान कहा कि सरकार को अदालत को संतुष्ट करने की जरूरत है कि कारों की ऑड इवन योजना वास्तव में लाभदायक रही है। एनजीटी के अध्यक्ष स्वतंत्र कुमार ने कहा कि हरित बेंच सम-विषम योजना के खिलाफ नहीं है, वह यह जानना चाहती है कि यह कैसे मददगार है।


हालांकि इस मामले को लेक एनजीटी ने दिल्ली सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था कि आपने ऑड-ईवन स्‍कीम को पिकनिक स्‍पॉट बना दिया है। आपने पूरे साल कुछ काम नहीं किया। एनजीटी ने सरकार से कहा कि साबित करें कि इससे प्रदूषण काम होगा या नहीं, अगर दिल्‍ली सरकार फायदा नहीं बता पाई तो हम इस पर रोक लगा देंगे।

Todays Beets: