Monday, June 17, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

LIVE - देशभर में डॉक्टरों की हड़ताल से मरीज परेशान, हड़ताली डॉक्टरों के खिलाफ कलकत्ता हाईकोर्ट में दायर याचिका

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - देशभर में डॉक्टरों की हड़ताल से मरीज परेशान, हड़ताली डॉक्टरों के खिलाफ कलकत्ता हाईकोर्ट में दायर याचिका

नई दिल्ली । लोकसभा चुनावों के दौरान पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा का असर अब सिस्टम में नजर आने लगा है । पश्चिम बंगाल में एक जूनियर डॉक्टर के साथ हुई मारपीट की घटना के बाद से मेडिकल एसोसिएशन भारी गुस्से में है । इस घटना के विरोध में पश्चिम बंगाल के सरकारी डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं  । तो वहीं राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी डॉक्टरों पर ही हमलावर हैं । बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल का असर अब देश के अन्य हिस्सों में भी दिखना शुरू हो गया है । आमल ये है कि बंगाल के साथ ही दिल्ली, यूपी, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में डॉक्टरों ने काम करने से इनकार कर दिया है । वहीं पश्चिम बंगाल में तीमारदारों की ओर से डॉक्‍टरों के साथ की गई मारपीट के बाद हुई डॉक्‍टरों की हड़ताल के खिलाफ कलकत्‍ता हाईकोर्ट में गुरुवार को याचिका लगाई गई है, जिस पर कलकत्‍ता हाईकोर्ट में मुख्य न्यायाधीश की डिवीजन बेंच में सुनवाई होगी ।

 

मिली जानकारी के अनुसार , हड़ताली डॉक्टरों के खिलाफ कलकत्ता हाईकोर्ट में दाखिल एक याचिकार में डॉक्टरों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की अपील की गई है । याचिका दायर करने वाले डॉक्टर कुणाल साहा के वकील श्रीकांत दत्त ने बताया बीते 10 जून को कोलकाता के नील रतन सरकार अस्पताल में एक मरीज की मौत के बाद दो डॉक्‍टरों को उसके परिजनों की ओर से बुरी तरह पीटा गया ।


इस घटना के बाद एनआरएस अस्पताल के चिकित्सक को घायल अवस्था में प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया गया । इसके विरोध में एनआरएस यानी नील रतन सरकार अस्पताल के जूनियर डॉक्टरों ने हड़ताल कर दी, जिसके चलते काफी मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है ।

बता दें कि इस घटना के विरोध में कई शहरों में डॉक्टर सड़क पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे हैं और नारेबाजी कर रहे हैं । इस सब के चलते मरीजों की आफत आ गई है । दिल्ली में AIIMS के बाहर मरीजों के परिजन परेशान घूमते नजर आए । इस सब के बीच AIIMS के डॉक्टर दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से मिलने पहुंच गए हैं । इससे पहले राजधानी दिल्ली में दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन (DMA) ने हड़ताल बुलाई है, जिसका असर AIIMS जैसे बड़े

अस्पतालों में देखने को मिल रहा है। मुंबई और यूपी के वाराणसी में भी डॉक्टरों ने काम करने से इनकार कर दिया है । इसी क्रम में पंजाब, केरल, राजस्थान, केरल, बिहार, मध्य प्रदेश में भी डॉक्टरों ने काम करने से इनकार कर दिया है ।

 

Todays Beets: