Thursday, October 19, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

दिसंबर में होगे गुजरात विधानसभा चुनाव, मतदान सत्यापन पर्ची प्रणाली का होगा प्रयोग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दिसंबर में होगे गुजरात विधानसभा चुनाव, मतदान सत्यापन पर्ची प्रणाली का होगा प्रयोग

अहमदाबाद । गुजरात विधानसभा का कार्यकाल जनवरी 2018 के तीसरे सप्ताह में खत्म होने जा रहा है। इससे पहले भारतीय निर्वाचन आयोग ने संकेत दिए हैं कि राज्य में विधानसभा चुनाव दिसंबर में कराए जा सकते हैं। मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) एके जोति ने इस संबंध में कहा कि चुनाव दिसंबर में होंगे क्योंकि विधानसभा का कार्यकाल भी खत्म होने का आया है। इस दौरान चुनाव राज्यों में कितने चरणों में कराए जाएंगे, इस संबंध में उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी। हालांकि इस बार चुनावों में 50 हजार से अधिक मतदान केंद्रों पर मतदाता मतदान सत्यापन पर्ची (वीवीपीएटी) प्रणाली का प्रयोग होगा। इस प्रणाली का पहली बार प्रयोग इस साल गोवा चुनावों में किया गया था।  


मुख्य चुनाव आयुक्त जोति ने कहा कि सभी 182 विधानसभा सीटों के लिए एक एक-बूथ पर मतदान सत्यापन पर्ची की गणना की जाएगी, ताकि पर्चियों की संख्या और डाले गए मतों का आपस में मिलान किया जा सके। इतना ही नहीं गुजारात में पहली बार चुनाव आयोग राज्य के सभी विधानसभा क्षेत्रों में सर्वमहिला मतदान केंद्र शुरू करेगा। सीईसी की अध्यक्षता वाली ईसी अधिकारियों की एक टीम चुनाव तैयारियों का आकलन करने के लिए गुजरात के दौरे पर थी।चुनाव कितने चरणों में होगा इस मुद्दे पर उन्होंने कुछ नहीं कहा लेकिन साफ किया कि चुनाव आयोग गुजरात दौरे के दौरान एकत्रित इनपुट पर विचार करेगा। इस टीम में चुनाव आयुक्त ओपी रावत और सुनील अरोड़ा सहित 12 अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे।

Todays Beets: