Friday, December 15, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

फीफा ने रद्द की पाकिस्तान फुटबाॅल फेडरेशन की मान्यता, किसी भी आयोजन में नहीं ले सकेगा हिस्सा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फीफा ने रद्द की पाकिस्तान फुटबाॅल फेडरेशन की मान्यता, किसी भी आयोजन में नहीं ले सकेगा हिस्सा

नई दिल्ली। पाकिस्तान के फुटबाॅल प्रेमियों के एक बड़ा झटका लगा है। इंटरनेशनल फेडरेशन आॅफ फुटबाॅल एसोसिएशन (फीफा) ने पाकिस्तान फुटबाॅल फेडरेशन (पीएफएफ) की मान्यता रद्द कर दी है। फीफा के इस आदेश के बाद पाकिस्तान तत्काल प्रभाव से फीफा के द्वारा कराए जाने वाले किसी भी मैच में हिस्सा नहीं ले पाएगा। पाकिस्तान की मान्यता रद्द करने के पीछे यह वजह बताई गई है कि उसका अकाउंट और प्रबंधन कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों द्वारा किया जाता है जो फीफा के साथ किए गए अनुबंध का उल्लंघन है। फीफा के अधिनियमों के अनुसार, पीएफएफ ने उन शर्तों को माना था कि उसका संचालन बिना किसी तीसरे पक्ष के प्रभाव के बिना स्वायत्त रूप से होगा। लेकिन कोर्ट द्वारा प्रशासकों की नियुक्ति करने से इन नियमों का पालन नहीं हुआ, जिस कारण फीफा ने पीएफएफ को सस्पेंड करने का फैसला लिया। फीफा की तरफ से पाकिस्तान को इसकी जानकारी दे दी गई है और फीफा की आधिकारिक वेबसाइट पर भी इसे डाल दिया गया है। फीफा की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि पीएफएफ के ऊपर से यह प्रतिबंध उस समय तक नहीं हटाया जाएगा, जब तक पीएफएफ ऑफिस और उसके अकाउंट्स का संचालन स्वतंत्र रूप से उसके पास वापस नहीं आ जाता है। 

ये भी पढ़ें - न्यूयॉर्क में जेटली बोले- भारत सरकार बोल्ड फैसले लेने और उन्हें लागू कराने में सक्षम


 

Todays Beets: