Saturday, June 23, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

तमिलनाडु के जंगलों में लगी भीषण आग, 4 छात्रों की मौत, वायुसेना कर रही मदद 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
तमिलनाडु के जंगलों में लगी भीषण आग, 4 छात्रों की मौत, वायुसेना कर रही मदद 

नई दिल्ली। देश में आगजनी की घ्टना बढ़ती ही जा रही हैं। रविवार को अचानक तमिलनाडु के थेणी जिले के जंगलों में भीषण  आग लग गई। इस आग में 36 छात्रों का एक दल फंस गया जिसमेंसे 4 की झुलसने से मौत हो गई जबकि 15 छात्रों को स्थानीय आदिवासियों की मदद से बचा लिया गया। 2 छात्रों के गंभीर रूप से घायल हो गए हैं पुलिस प्रशासन की तरफ से बाकी के छात्रों को बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। गौरतलब है कि ये छात्र मुन्नार के सूर्यानेल्ली से यहां ट्रैकिंग प्रशिक्षण कैंप में हिस्सा लेने आए थे।

आपको बता दें कि मदुरई के वन संरक्षक आरके जगेनिया ने बताया कि जंगल में ढलान से उतरते समय ये लोग आग की चपेट में आ गए। हालांकि, आईजी दक्षिण शैलेष कुमार यादव ने 9 महिलाओं और 1 लड़के का शव बरामद होने की बात कही है। दमकलकर्मियों और वन विभाग के कर्मचारियों के साथ चाय बागान के कर्मचारी और स्थानीय आदिवासियों की मदद से राहत एव बचाव कार्य जारी है। आग की भयंकरता को देखते हुए वायुसेना के 2 हेलीकॉप्टरों को भी राहत एवं बचाव अभियान में लगाया गया है। एक मेडिकल टीम को घटनास्थल की ओर भेजा गया है।


मुख्यमंत्री बनते ही बिप्लव देब चले पीएम की राह,कहा- न खाऊंगा और न खाने दूंगा

यहां बता दें कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री द्वारा रक्षा मंत्री से मदद की गुहार लगाने के बाद वायुसेना के हेलीकाॅप्टरों को मदद के लिए भेजा गया। रक्षा मंत्री खुद भी थेणी के जिला कलक्टर के संपर्क में हैं।

Todays Beets: