Wednesday, October 17, 2018

Breaking News

   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||   सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ मामले में सीबीआई जांच की अर्जी को खारिज किया    ||   मध्यप्रदेश सरकार ने पांच नए सूचना आयुक्त चुने, राज्यपाल को भेजी सिफारिश     ||   बिहार: ASI संग शराब बेच रहा था थानेदार, अरेस्ट     ||

केरल में बारिश बनी आफत, एक बच्ची की गई जान, 10 लापता

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केरल में बारिश बनी आफत, एक बच्ची की गई जान, 10 लापता

नई दिल्ली। भारत के दक्षिणी राज्य केरल में मानसून की बारिश लोगों के लिए आफत बन गई है। पिछले कई घंटों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से 1 व्यक्ति की मौत हो गई है वहीं 10 से ज्यादा लापता बताए जा रहे हैं। कोझिकोड जिले में भारी बारिश की वजह से कई जगह पर भू-स्खलन भी हुआ है जिससे संपत्ति को काफी नुकसान पहुंचा है। स्थानीय खबरों के अनुसार मरने वाली बच्ची की उम्र 9 साल बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि भूस्खलन की वजह से उसका घर सैलाब की चपेट में आ गया और वह उसमें बह गई।

गौरतलब है कि केरल के इडुक्की, वेनाद, कोझिकोड जिलों में भू-स्खलन और सड़कों के नुकसान की खबर सामने आई है। आपदा प्रबंधन विभाग ने ‘राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण’  से कोझिकोड में अतिरिक्त सहायता मांगी है। बता दें कि कन्नूर, कोझिकोड, कोट्टायम और आलप्पुषा जिलों में बारिश से प्रभावित लोगांे को राहत पहुंचाने के लिए राहत शिविर बनाए गए हैं। 


ये भी पढ़ें - भूख हड़ताल पर बैठे स्वास्थ्य मंत्री की तबीयत बिगड़ी, सीएम ने प्रधानमंत्री से की हड़ताल खत्म क...

बता दें कि राज्य के इन जिलों से खेतों में व्यापक नुकसान की सूचना मिली है। खबरों के अनुसार कोझिकोड में 474 लोग शिविरों में हैं। एक अधिकारी ने बताया कि इन जिलों में बारिश जारी है, जिससे बचाव अभियान को आगे बढ़ाना मुश्किल हो गया है। 

Todays Beets: