Sunday, October 21, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

आईएसआई देश में आतंकी हमले के लिए सिख युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण- गृह मंत्रालय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आईएसआई देश में आतंकी हमले के लिए सिख युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण- गृह मंत्रालय

नई दिल्ली। भारतीय गृह मंत्रालय ने पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी आईएसआई पर आरोप लगाते हुए कहा है कि वह भारत में आतंकी हमला करने के लिए सिख युवाओं को प्रशिक्षण दे रही है। गृह मंत्रालय ने संसदीय समिति को यह जानकारी देते हुए बताया कि आईएसआई के ठिकानों पर इन युवाओं को हथियारों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मंत्रालय की तरफ से यह आरोप भी लगाया गया है कि आईएसआई न सिर्फ भारत में रहने वाले सिखों बल्कि विदेशों में भी बसे सिखों को भड़काया जा रह है।

गौरतलब है कि गृह मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल कर आतंकी संगठन युवाओं को भड़काया जा रहा है।  उनका कहा है कि यह स्थिति सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती बनकर उभरी है। संसद में पेश की गई समिति की रिपोर्ट में इस बात पर जोर दिया गया कि सिख आतंकवाद को लेकर काफी हलचल देखने को मिल रही है, एक बार फिर से सिख आतंकवाद को बढ़ावा देने की कोशिशें की जा रही हैं। 


ये भी पढ़ें - जेएनयू के 2 और प्रोफेसरों पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप, पीएचडी की छात्रा ने इंटरनल कंप्लेंट कमे...

यहां बता दें कि गृह मंत्रालय की सूचना के बाद केन्द्र और राज्य की सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं और स्थिति से निपटने की तैयारी में जुट गए हैं। गृह मंत्रालय ने संसदीय समिति को बताया कि भारत हमेशा से ही पाकिस्तान के लश्कर-ए-ताइबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों के निशाने पर रहा है। इसके सिमी, अल-उम्मा और आईएम जैसे आतंकी संगठन भी भारत पर नजर गड़ाए हुए हैं। अब अल-कायदा और आईएस जैसे संगठन भी सामने आ गए।

Todays Beets: