Sunday, January 20, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

आईएसआई देश में आतंकी हमले के लिए सिख युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण- गृह मंत्रालय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आईएसआई देश में आतंकी हमले के लिए सिख युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण- गृह मंत्रालय

नई दिल्ली। भारतीय गृह मंत्रालय ने पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी आईएसआई पर आरोप लगाते हुए कहा है कि वह भारत में आतंकी हमला करने के लिए सिख युवाओं को प्रशिक्षण दे रही है। गृह मंत्रालय ने संसदीय समिति को यह जानकारी देते हुए बताया कि आईएसआई के ठिकानों पर इन युवाओं को हथियारों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मंत्रालय की तरफ से यह आरोप भी लगाया गया है कि आईएसआई न सिर्फ भारत में रहने वाले सिखों बल्कि विदेशों में भी बसे सिखों को भड़काया जा रह है।

गौरतलब है कि गृह मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल कर आतंकी संगठन युवाओं को भड़काया जा रहा है।  उनका कहा है कि यह स्थिति सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती बनकर उभरी है। संसद में पेश की गई समिति की रिपोर्ट में इस बात पर जोर दिया गया कि सिख आतंकवाद को लेकर काफी हलचल देखने को मिल रही है, एक बार फिर से सिख आतंकवाद को बढ़ावा देने की कोशिशें की जा रही हैं। 


ये भी पढ़ें - जेएनयू के 2 और प्रोफेसरों पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप, पीएचडी की छात्रा ने इंटरनल कंप्लेंट कमे...

यहां बता दें कि गृह मंत्रालय की सूचना के बाद केन्द्र और राज्य की सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं और स्थिति से निपटने की तैयारी में जुट गए हैं। गृह मंत्रालय ने संसदीय समिति को बताया कि भारत हमेशा से ही पाकिस्तान के लश्कर-ए-ताइबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों के निशाने पर रहा है। इसके सिमी, अल-उम्मा और आईएम जैसे आतंकी संगठन भी भारत पर नजर गड़ाए हुए हैं। अब अल-कायदा और आईएस जैसे संगठन भी सामने आ गए।

Todays Beets: