Saturday, April 21, 2018

Breaking News

   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||   रेलवे की 90 हजार नौकरियों के आवेदन की आज लास्ट डेट, दो करोड़ 80 लाख कर चुके हैं अप्लाई     ||   कांग्रेस में बड़ा बदलाव: जनार्दन द्विवेदी की छुट्टी, गहलोत बने नए AICC महासचिव     ||   भारत ने चीन की तिब्बत सीमा पर भेजे और सैनिक, गश्त भी बढ़ाई     ||   अब कॉल सेंटर की नौकरियों पर नजर, अमेरिकी सांसद ने पेश किया बिल     ||   ब्लूमबर्ग मीडिया का दावा, 2019 छोड़िए 2029 तक पीएम रहेंगे नरेंद्र मोदी     ||   फेसबुक को डेटा लीक मामले से लगा तगड़ा झटका, 35 अरब डॉलर का नुकसान     ||

आईएसआई देश में आतंकी हमले के लिए सिख युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण- गृह मंत्रालय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आईएसआई देश में आतंकी हमले के लिए सिख युवाओं को दे रहा प्रशिक्षण- गृह मंत्रालय

नई दिल्ली। भारतीय गृह मंत्रालय ने पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी आईएसआई पर आरोप लगाते हुए कहा है कि वह भारत में आतंकी हमला करने के लिए सिख युवाओं को प्रशिक्षण दे रही है। गृह मंत्रालय ने संसदीय समिति को यह जानकारी देते हुए बताया कि आईएसआई के ठिकानों पर इन युवाओं को हथियारों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मंत्रालय की तरफ से यह आरोप भी लगाया गया है कि आईएसआई न सिर्फ भारत में रहने वाले सिखों बल्कि विदेशों में भी बसे सिखों को भड़काया जा रह है।

गौरतलब है कि गृह मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल कर आतंकी संगठन युवाओं को भड़काया जा रहा है।  उनका कहा है कि यह स्थिति सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती बनकर उभरी है। संसद में पेश की गई समिति की रिपोर्ट में इस बात पर जोर दिया गया कि सिख आतंकवाद को लेकर काफी हलचल देखने को मिल रही है, एक बार फिर से सिख आतंकवाद को बढ़ावा देने की कोशिशें की जा रही हैं। 


ये भी पढ़ें - जेएनयू के 2 और प्रोफेसरों पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप, पीएचडी की छात्रा ने इंटरनल कंप्लेंट कमे...

यहां बता दें कि गृह मंत्रालय की सूचना के बाद केन्द्र और राज्य की सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं और स्थिति से निपटने की तैयारी में जुट गए हैं। गृह मंत्रालय ने संसदीय समिति को बताया कि भारत हमेशा से ही पाकिस्तान के लश्कर-ए-ताइबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों के निशाने पर रहा है। इसके सिमी, अल-उम्मा और आईएम जैसे आतंकी संगठन भी भारत पर नजर गड़ाए हुए हैं। अब अल-कायदा और आईएस जैसे संगठन भी सामने आ गए।

Todays Beets: