Sunday, January 20, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

भारत की इस्लामिक देशों को हिदायत, कश्मीर मामले में किसी बाहरी को दखल देने का हक नहीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारत की इस्लामिक देशों को हिदायत, कश्मीर मामले में किसी बाहरी को दखल देने का हक नहीं

न्यूयॉर्क । अंतरराष्ट्रीय समुदाय में जम्मू-कश्मीर को लेकर अमूमन हल्ला करने वाले पाकिस्तान को यूएन में भारत ने मुंह तोड़ जवाब दिया है। असल में मुस्लिम देशों के संगठन 'ऑर्गनाइजेशन ऑफ द इस्लामिक कॉऑपरेशन' की तरफ से पाकिस्तान ने भारत पर जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार के हनन और कश्मीरियों के आत्मनिर्णय के अधिकार को नकारने का आरोप लगाया था। इस पर भारत ने इन आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए साफ कर दिया कि OIC को भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप का कोई हक नहीं है।

UN में भारत की ओर से दिए गए जवाब में इंडियन परमानेंट मिशन के पहले सचिव डॉक्टर सुमित सेठ ने कहा, 'भारत को अफसोस है कि OIC ने अपने बयान में भारत के अभिन्न और अविभाज्य राज्य जम्मू-कश्मीर से जुड़े गलत और भ्रामक तथ्य शामिल किए हैं, अध्यक्ष जी, मैं इस मंच का इस्तेमाल भारत के जवाब देने के अधिकार के तहत कर रहा हूं। यह जवाब पाकिस्तान के उस बयान के बाद दिया जा रहा है, जो उसने OIC की तरफ से दिया था। भारत ऐसे बयान को पूरी तरह से खारिज करता है। OIC को भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है। हम OIC को सलाह देते हैं कि वह भविष्य में इस तरह की बयानबाजी से बचे।'


बता दें कि OIC 57 देशों का संगठन है जो दुनिया में मुस्लिमों की आवाज बनने के लिए इकट्ठे हुए हैं। OIC की तरफ से पाकिस्तान ने भारत पर जम्मू-कश्मीर राज्य में मानवाधिकार के हनन और कश्मीरियों के आत्मनिर्णय के अधिकार को नकारने का आरोप लगाया था।

Todays Beets: