Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

इंदौर कोर्ट का बड़ा फैसला, दुधमुंही बच्ची से दुष्कर्म करने वाले को 23वें दिन दी सजा-ए-मौत

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इंदौर कोर्ट का बड़ा फैसला, दुधमुंही बच्ची से दुष्कर्म करने वाले को 23वें दिन दी सजा-ए-मौत

नई दिल्ली।  नाबालिगों से दुष्कर्म के मामले में दोषियों को सजा देने के मामले में मध्यप्रदेश ने एक मिसाल कायम की है। इंदौर कोर्ट ने नवीन नाम के एक शख्स को महज 4  महीने की दुधमुंही बच्ची का अपहरण, ज्यादती और हत्या के मामले में दोषी करार देते हुए सजा-ए-मौत दी है। बता दें कि जज ने 7 दिन तक सात-7 घंटे सिर्फ इसी मामले को सुना और 21 दिन में सुनवाई पूरी होने के बाद 23वें दिन फैसला सुना दिया। बता दें कि मध्यप्रदेश में नाबालिगों से दुष्कर्म के लिए नया कानून बनने के बाद यह पहला मामला है जहां आरोपी को फांसी की सजा सुनाई गई है।

ये भी पढ़ें - यूपी में एक बड़ा रेल हादसा टला, कपलिंग खुलने से डिब्बों को छोड़कर इंजन आगे चला गया


गौरतलब है कि शनिवार को दुधमुंही बच्ची से रेप और हत्या के आरोपी नवीन को कड़ी सुरक्षा के बीच पुलिस, कोर्ट लेकर आई। सुरक्षा के लिहाज से वहां मीडिया को भी अंदर जाने से रोक दिया गया। बता दें कि आरोपी शख्स 19 अप्रैल 2018 को शराब लेकर बच्ची की नानी को पिलाने गया था लेकिन मना करने पर बोतल फेंककर चला गया लेकिन अगले ही दिन यानी कि 20 अप्रैल को सुबह 4 बजे वह माता-पिता के पास सोई बच्ची को उठाकर श्रीनाथ पैलेस बिल्डिंग के तलघर में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में उसे ऊपर से फेंक दिया, जिससे बच्ची की मौत हो गई थी।

Todays Beets: