Wednesday, November 21, 2018

Breaking News

   चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा, कोर्ट में किया था सरेंडर     ||   MP में चुनाव प्रचार के दौरान शख्स ने BJP कैंडिडेट को पहनाई जूतों की माला     ||   बेंगलुरु: गन्ना किसानों के साथ सीएम कुमारस्वामी की बैठक     ||   US में ट्रंप को कोर्ट से झटका, अवैध प्रवासियों को शरण देने से नहीं कर सकते इनकार    ||   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||

Breaking News - बच्चों को मिड डे मील में मिली मरी छिपकली, दिल्ली में सरकारी स्कूल के 20 बच्चे बीमार

अंग्वाल संवाददाता
Breaking News - बच्चों को  मिड डे मील में मिली मरी छिपकली, दिल्ली में सरकारी स्कूल के 20 बच्चे बीमार

नई दिल्ली । दिल्ली स्थिति नरेला के एक सरकारी स्कूल में बुधवार दोपहर बच्चों को दिए जाने वाले मिड-डे मिल खाने से बड़ी संख्या में बच्चों की तबीयत खराब बहो गई है। इन बच्चों को निकट के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। खबरों के अनुसार, बच्चों को दिए जाने वाले खाने में छिपकली मिली है, जिसके बाद जहरीला हो चुका खाना खाने से इन बच्चों की तबीयत बिगड़ी है। इस घटना के बाद उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मामले की जांच को कहा है। वहीं जहरीला खाना खाने से बीमार बच्चों को प्राथमिक उपचार के लिए अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। 

बता दें कि बुधवार दोपहर जब नेरला स्थित सरकारी स्कूल में बच्चों को मिड डे मील बांटा गया तो खाना खाने के कुछ देर बाद ही बच्चों की तबीयत एकाएक बिगड़ने लगी। बच्चों की तबीयत बिगड़ती देख जब मिल डे मील की जांच की गई तो सामने आया कि खाने में छिपकली गिरी हुई थी। अब इस बात की जांच की जा रहाी है कि छिपकली खाना बनाते समय गिरी या खाना बनने के बाद ये छिपकली खाने में गिरी है। 

समलैंगिकता पर केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा- कोर्ट ही तय करे सहमति से बालिगों का समलैंगिक संबंध अपराध है या नहीं


बहरहाल, इस मामले में आनन-फानन में बीमार हुए बच्चों को निकट के अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। इन बच्चों में से ज्यादातर को उल्टी और पेट दर्ज की शिकायत हो रही है। इन बच्चों का इलाज शुरू कर दिया गया है। 

फेक न्यूज रोकने के लिए वाॅट्स एप ने उठाया कदम, अपडेटेड वर्जन में दिखेगा नया फीचर

Todays Beets: