Friday, October 20, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

अलगाववादी नेताओं को NIA कोर्ट ने 10 दिन की हिरासत पर भेजा

अंग्वाल संवाददाता
अलगाववादी नेताओं को NIA कोर्ट ने 10 दिन की हिरासत पर भेजा

नई दिल्ली। टेरर फंडिग के आरोप में गिरफ्तार हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेताओं को शुक्रवार दोपहर एनआईए की विशेष अदालत में पेश किया गया। इस दौरान एनआईए ने आरोपियों से पूछताछ के लिए उनकी रिमांड की मांग नहीं की थी, जिसके चलते कोर्ट ने हुर्रियत नेता एसएएस गिलानी के दामाद समेत चार कश्मीरी अलगाववादियों को एक बार फिर 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इसके साथ ही कोर्ट ने गिरफ्तार अन्य अलगाववादियों को एक माह के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

यह भी पढ़े- हुर्रियत के अलागगवादी नेताओं को दिल्ली में नहीं मिल रहे वकील, गिलानी समेत अन्य नेताओं से भी होगी पूछताछ

आरोपियों की हुई कोर्ट में पेशी

पाकिस्तान से पैसे लेकर कश्मीर घाटी में हिंसा फैलाने के आरोप में हुर्रियत के अलगाववादियों नेताओं को राष्ट्रीय जांच एंजेसी ने हिरासत में लिया था। इन पर आरोप लगाया है कि यह घाटी में हिंसक गतिविधियों को बढ़ावा देते हैं। इसके लिए इन्हें पाकिस्तान की तरफ से मोटी रकम दी जाती है। कोर्ट ने शुक्रवार को एनआईए की विशेष अदालत में जस्टिस ओ.पी सैनी के सामने पेश किया। यहां से कोर्ट ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

यह भी पढ़े- अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थाई सदस्यता के समर्थन की पुष्टि की

हुर्रियत नेताओं को नहीं मिल रहें वकील


हुर्रियत के नेताओं की गिरफ्तारी के बाद से एक बात ओर उजागर हुई जिसमें उनके मामलें को कोर्ट मे पेश करने के लिए उनकी ओर कोई वकील तैयार नहीं हो रहा था।ऐसे में हुर्रियत उन वकीलों से बातचीत के प्रयास कर रहा है जो कहीं न कहीं अलगाववादी नेताओं के पक्ष में बयान देते रहें हैं।

 

 

 

 

 

Todays Beets: