Tuesday, August 22, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

अलगाववादी नेताओं को NIA कोर्ट ने 10 दिन की हिरासत पर भेजा

अंग्वाल संवाददाता
अलगाववादी नेताओं को NIA कोर्ट ने 10 दिन की हिरासत पर भेजा

नई दिल्ली। टेरर फंडिग के आरोप में गिरफ्तार हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेताओं को शुक्रवार दोपहर एनआईए की विशेष अदालत में पेश किया गया। इस दौरान एनआईए ने आरोपियों से पूछताछ के लिए उनकी रिमांड की मांग नहीं की थी, जिसके चलते कोर्ट ने हुर्रियत नेता एसएएस गिलानी के दामाद समेत चार कश्मीरी अलगाववादियों को एक बार फिर 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इसके साथ ही कोर्ट ने गिरफ्तार अन्य अलगाववादियों को एक माह के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

यह भी पढ़े- हुर्रियत के अलागगवादी नेताओं को दिल्ली में नहीं मिल रहे वकील, गिलानी समेत अन्य नेताओं से भी होगी पूछताछ

आरोपियों की हुई कोर्ट में पेशी

पाकिस्तान से पैसे लेकर कश्मीर घाटी में हिंसा फैलाने के आरोप में हुर्रियत के अलगाववादियों नेताओं को राष्ट्रीय जांच एंजेसी ने हिरासत में लिया था। इन पर आरोप लगाया है कि यह घाटी में हिंसक गतिविधियों को बढ़ावा देते हैं। इसके लिए इन्हें पाकिस्तान की तरफ से मोटी रकम दी जाती है। कोर्ट ने शुक्रवार को एनआईए की विशेष अदालत में जस्टिस ओ.पी सैनी के सामने पेश किया। यहां से कोर्ट ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

यह भी पढ़े- अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थाई सदस्यता के समर्थन की पुष्टि की

हुर्रियत नेताओं को नहीं मिल रहें वकील


हुर्रियत के नेताओं की गिरफ्तारी के बाद से एक बात ओर उजागर हुई जिसमें उनके मामलें को कोर्ट मे पेश करने के लिए उनकी ओर कोई वकील तैयार नहीं हो रहा था।ऐसे में हुर्रियत उन वकीलों से बातचीत के प्रयास कर रहा है जो कहीं न कहीं अलगाववादी नेताओं के पक्ष में बयान देते रहें हैं।

 

 

 

 

 

Todays Beets: