Wednesday, September 26, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

ध्यान रखें, कहीं बच्चे ऑनलाइन पटाखों का ऑर्डर देकर त्योहार पर मुसीबत न मंगवा लें, पुलिस कर रही है निगरानी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ध्यान रखें, कहीं बच्चे ऑनलाइन पटाखों का ऑर्डर देकर त्योहार पर मुसीबत न मंगवा लें, पुलिस कर रही है निगरानी

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली-एनसीआर में दीवापली पर पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध क्या लगाया, पटाखों का धंधा ऑनलाइन बाजार में चमकने लगा। इस सब के बीच दिल्ली पुलिस ने कड़ा रुख अपनाते हुए पटाखों की ऑनलाइन ब्रिकी पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पुलिस ने कहा कि जो भी ऑनलाइन पोर्टल या अन्य किसी ऑनलाइन माध्यम से पटाखों को बेचने या खरीदने का शातिराना व्यवहार करेगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस ने साफ किया कि अगर व्यापारियों के पास 100 किलो से ज्यादा पटाखे मिले तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

दिल्‍ली पुलिस के प्रवक्‍ता मधुर वर्मा ने गुरुवार को कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इस साल दीपावली के दौरान दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में पटाखों की बिक्री पर एक नवंबर तक के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। ऐसे में पटाखों की ऑनलाइन ब्रिकी करने वाले लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं अनैतिक तरीके से पटाखे खरीदने वालों पर भी कानूनी रूप से कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर लोग ऑनलाइन तरीके से खरीदने बेचने का काम कर रहे हैं तो ध्यान रखिए कि आप पर दिल्ली पुलिस नजर रखे हुए है। 


बता दे कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की ब्रिकी पर प्रतिबंध लगा दिया है। कोर्ट ने यह फैसला दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण के स्तर की जांच के लिए भी लिया है। कोर्ट का कहना है कि वह इस बात की जांच करना चाहती है कि क्या दीपावली के दौरान पटाखों से निकलने वाले धुएं से दिल्ली कितनी प्रदूषित हो रही है। 

Todays Beets: