Monday, July 16, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

भारी आस्था के बीच आज शुरू होगी भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा, हजारों की तादाद में श्रद्धालु खीचेंगे रथ

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारी आस्था के बीच आज शुरू होगी भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा, हजारों की तादाद में श्रद्धालु खीचेंगे रथ

नई दिल्ली। ओडिशा के जगन्नाथ पुरी में शनिवार से रथयात्रा शुरू हो रही है। इस रथ यात्रा के दौरान भगवान जगन्नाथ नगर भ्रमण को निकलेंगे। दोपहर 3 बजे से इस भव्य यात्रा की शुरुआत होगी। बता दें कि यात्रा शुरू होने से पहले 108 जोतों से भगवान की आरती उतारी जाएगी। दोपहर 12 बजे यात्रा को शुरू करने के लिए जुएं की बोली होगी। जो 4 लोग सबसे महंगी बोली लगाएंगे उन्हें सबसे पहले जुएं को हाथ लगाने का सौभाग्य मिलेगा। गौर करने वाली बात है कि बोली की रकम को मंदिर में दक्षिणा के तौर पर अर्पण किया जाएगा। वहीं अहमदाबाद में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सोने की झाड़ू लगाकर यात्रा की शुरुआत की। 

गौरतलब है कि पुरी की रथयात्रा की खास बात यह है कि यहां भगवान जगन्नाथ को कोलकाता से मंगवाए गए फूलों से सजाया जाएगा। रथयात्रा में हरिद्वार, नोएडा व सोनीपत से झांकियां शामिल होंगी। साथ में रुड़की बैंड और समालखा बैंड भी शामिल होंगे।

ये भी पढ़ें - पाकिस्तान में चुनावी रैली के दौरान 2 जबर्दस्त धमाके, 133 लोगों की मौत 200 से ज्यादा घायल


रथ यात्रा की खासियत

इस रथयात्रा के दौरान भगवान जगन्नाथ, भगवान बालभद्र और देवी सुभद्रा रथ में बैठकर जगन्नाथ मंदिर से रथ में बैठकर गुंडिचा मंदिर जाते हैं। आपको बता दें, भगवान बालभद्र और देवी सुभद्रा का जगन्नाथ मंदिर घर माना जाता है तो वहीं गुंडिचा मंदिर को भगवान जगन्नाथ की मौसी का घर कहा जाता है।

Todays Beets: