Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

रूस के साथ रक्षा सौदे से तिलमिलाए अमेरिका ने भारत को दिखाई ‘दादागिरी’, ईरान से तेल आयात करने से रोका

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रूस के साथ रक्षा सौदे से तिलमिलाए अमेरिका ने भारत को दिखाई ‘दादागिरी’, ईरान से तेल आयात करने से रोका

नई दिल्ली। भारत और रूस के बीच हुए एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली सौदे के बाद अमेरिका बुरी तरह से तिलमिला गया है। उसने भारत को ईरान से तेल खरीदने पर धमकी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने धमकी भरे लहजे में कहा है कि 4 नवंबर के बाद अगर कोई देश ईरान से तेल खरीदता है तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाया जाएगा। बता दें कि भारत को रूस के साथ रक्षा सौदा करने पर अमेरिका ने प्रतिबंध लगाने की धमकी दी थी। भारत ने इसकी परवाह किए बगैर रूस से रक्षा सौदा किया है।

गौरतलब है कि भारत समेत दुनिया के कई देश ईरान से तेल आयात किया जाता है। अमेरिका ने सभी देशों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर 4 नवंबर तक उन्होंने ईरान से तेल का आयात बंद नहीं किया तो उन्हें अमेरिका ‘देख लेगा’। डोनाल्ड ट्रंप ने भारत और चीन को भी इसी तरह की धमकी दी है। हालांकि भारत ने कहा दिया है कि वह ईरान से तेल का आयात जारी रखेगा।

ये भी पढ़ें - बढ़ते प्रदूषण के स्तर पर एनजीटी सख्त, 23 राज्यों को 2 महीने के अंदर कार्ययोजना तैयार करने का आदेश


आपको बता दें कि साल 2015 में ईरान परमाणु समझौते से अमेरिका अलग हो गया था और उसने ईरान पर प्रतिबंध लगा दिए। ट्रंप ने ईरान से तेल खरीदने वाले सभी देशों से अपील की है कि वो ईरान से कच्चे तेल का आयात घटाकर शून्य कर लें और अगर ऐसा नहीं किया तो उन देशों पर भी प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। 

 

Todays Beets: