Sunday, December 16, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

यूपी पुलिस बनी 'सुपारी किलर' , पैसों के बदले एकाउंटर करने की हामी भरने वाले 3 पुलिसकर्मी निलंबित, संसद में उठेगा मुद्दा

अंग्वाल संवाददाता
यूपी पुलिस बनी

लखनऊ  । उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार आने के समय सीएम कुर्सी पर बैठते हुए  योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की जनता को आश्वासन दिया था कि अब सूबे में कानून का राज होगा। इसके बाद राज्य में कई नामी-गिरामी बदमाशों के एंकाउंटर हुए, कई ने सरेंडर कर दिया। लेकिन हाल में सामने आए एक स्टिंग ऑपरेशन ने साफ कर दिया कि यूपी पुलिस कुछ लोगों के लिए सुपारी किलर बनकर बदमाशों को ढेर करने के काम में भी जुटी है। इस स्टिंग ऑपरेशन में पुलिस अफसर रुपयों के बदले एंकाउंटर करने की बात कहते सुनाई दिए हैं। इस सब के बाद UP Police के DGP ने आगरा के तीन पुलिस कर्मियों को निंबित कर दिया है। 

बता दें कि न्यूज चैनल आजतक -इंडिया टुडे ने अपने एक स्टिंग ऑपरेशन में दिखाया कि किस तरह यूपी पुलिस के कुछ अधिकारी पैसे लेकर एंकाउंटर करने को राजी हो गए। इसका वीडियो जारी होने के बाद यूपी सरकार के साथ ही यूपी पुलिस में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में मंगलवार को डीजीपी ने तीन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया। 

गुरेज में सेना ने 4 आतंकियों को किया ढेर, 1 मेजर समेत 4 जवान भी शहीद

वहीं यूपी पुलिस के इस फेक एंकाउंटर का मुद्दा संसद में उठेगा। कांग्रेस समेत समाजवादी पार्टी इस मुद्दे को सदन में उठाएगी। कांग्रेसी नेता राजबब्बर ने कहा कि ये है योगी सरकार का असर विकास, जहां रकम लेकर पुलिस लोगों का एंकाउटर कर रही है। ऐसा करके भाजपा सरकार अपने विकास का गुणगान कर रही है। वहीं पीएल पुनिया ने कहा कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार झूठे वायदों के अलावा कुछ और नहीं कर सकती। यूपी में कानून का राज लागू करने की बात कहने वाली योगी के शासनकाल में पैसे लेकर गरीब लोगों को मारा जा रही है। ये है इनकी विकासनीति।


लोकसभा चुनावों से पहले मायावती ने फिर चल दिया 'मास्टरस्टोक' , भाजपा समेत सपा-कांग्रेस को लगेगा झटका

बहरहाल, इस मुद्दे पर यूपी के डीजीपी ओमप्रकाश सिंह ने तीन आरोपी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करते हुए इस मामले की जांच करवाने के आदेश दे दिए हैं। आगरा के एसएसपी ने इस मामले में कहा कि अगर पुलिस विभाग में कोई भी इस तरह से निर्दोष लोगों को फंसाने की साजिश रचता है तो उसके खिलाफ आम जन की तरह कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

संसदीय दल की बैठक में राहुल ने साधा पीएम पर निशाना, कहा- उनकी चुप्पी देश के लिए खतरनाक

Todays Beets: