Tuesday, October 23, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

'तूफानी रैलियों' के बीच ये कैसा तूफान की टल गईं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की तीनों रैलियां

अंग्वाल न्यूज डेस्क

अहमदाबाद। गुजरात विधानसभा चुनावों के मद्देनजर इन दिनों कांग्रेस और भाजपा नेताओं की 'तूफानी' रैलियां जारी हैं, लेकिन इन दिनों गुजरात में एक अलग तूफान के चलते भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की गुजरात में रैलियां रद्द करनी पड़ गई है। असल में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की मंगलवार को गुजरात के तटवर्ती इलकों में रैलियां थी लेकिन सोमवार रात चक्रवात ओखी के राज्य में दाखिल होने के चलते उनकी तटवर्ती इलकों में तीनों रैलियां रद्द कर दी गई हैं। ये रैलियां राजुला, माहुआ और शिहोर में होनी थीं। 

ये भी पढ़ें- आतंकी जाकिर मूसा को उसके ही गांव के लोगों ने पथराव कर साथियों समेत भगाया, त्राल में दबोचने के लिए दबिश

ओखी की चेतावनी से कार्यक्रम रद्द

असल में इन दिनों आए चक्रवात ओखी की चेतावनी के मद्देनजर गुजरात सरकार ने प्रदेश के तमाम बंदरगाहों पर रेड नंबर सिंग्लन लगा कर दिया गया है। समुद्र में मछली पकड़ कर रहे मछुआरों को वापस आने की सूचना दे दी गई । इतना ही नहीं किसी भी स्थिति से निपटने के लिए समुद्र किनारे वाले क्षेत्रों में एनडीआरएफ की टीम तैनात कर दी गई है। इसके साथ ही एक 24 घंटे चलने वाला कंट्रोल रूम भी बनाया गया है। 

ये भी पढ़ें- पार्टी से बगावत नेताओं को पड़ी महंगी, शरद यादव और अली अनवर की राज्यसभा की सदस्यता गई

कई शहरों का बदला मौसम

केरल, चेन्नई को प्रभावित कर चुके ओखी तुफान का असर अब गुजरात पर भी पड़ता नजर आ रहा है। प्रदेश के कई शहरों में तेज हवाओं के साथ तटवर्ती क्षेत्रों में बारिश भी हुई है। अहमदाबाद , राजकोट, सूरत, वडोदरा जैसे बड़े शहरों का मौसम बल गया है। सरकार ने भी इस बात का जिक्र किया है कि दक्षिण भारत में तबाही मचाने के बाद अब इस चक्रवाती तूफान ने गुजरात की ओर रुख किया है। अगले 48 घंटों में ओखी तुफान में गुजरात में 60 से 70 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है।


ये भी पढ़ें- गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस ने जारी किया अपना घोषणा पत्र, खुश गुजरात, खुशहाल गुजरात का दिया नारा

अधिकारियों की बैठक हुई

दक्षिण भारत में आफत लाने वाले ओखी तूफान को लेकर अब केंद्र की ओर से महाराष्ट्र और गुजरात पर संकट के बादल आने की चेतावनी जाहिर की है। इसके मद्देनजर गुजरात में सभी जिला कलेक्टर व अधिकारियों के साथ एक बैठक की गई है। इसमें सावधानी तमाम कदम उठाए गये है। बंदरगाह पर रेड नंबर सिंग्लन लगाने के साथ मच्छुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई। 

ये भी पढ़ें- सैन्य कार्रवाई में 3 आतंकी ढेर, एक जिंदा गिरफ्तार, श्री अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने वाला गुट पूरी तरह ढेर

सुरक्षा बलों को तैयार रहने के लिए कहा

राज्य में तूफान की आफत के चलते सुरक्षा बलों को तैयार रहने के लिए कहा गया है। सूरत , राजकोट, कच्छ , जूनागढ़ सहित समुद्री किनारे वाले एनडीआरएफ के जवानों को हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। समुद्र में से मछुआरों के बोटों को सुरक्षित स्थल पर ले जाया गया है।

Todays Beets: