Sunday, September 24, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

राजनीति में उतरने की तैयारी में आतंकी हाफिज सईद, पाक चुनाव आयोग से की राजनीतिक पार्टी को मान्यता देने की अपील

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राजनीति में उतरने की तैयारी में आतंकी हाफिज सईद, पाक चुनाव आयोग से की राजनीतिक पार्टी को मान्यता देने की अपील

इस्लामाबाद।

जमात—उद—दावा का सरगना और मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद अब राजनीति में उतरने की तैयारी कर रहा है। उसके संगठन जमात—उद—दावा ने पाकिस्तान के चुनाव आयोग में मिल्ली मुस्लिम लीग नाम से राजनीतिक पार्टी को मान्यता देने के लिए अर्जी दाखिल की है। खबरों के मुताबिक, सईद अपनी पार्टी को लॉन्च करने की घोषणा पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर लाहौर में एक फंक्शन में करना चाहता है।

ये भी पढ़ें— आतंकी सरगना हाफिज सईद को नजरबंद रखने की मियाद दो महीने और बढ़ी, जनवरी से नजरबंद है जमात—उद—दा...

बता दें कि हाफिज सईद पिछले 6 महीने से पाकिस्तान में नजरबंद है और हाल ही में उसकी नजरबंदी की मियाद 2 महीने और बढ़ा दी गई थी। उसे 31 जनवरी को तीन महीने के लिए नजरबंद कर दिया गया था, लेकिन फिर उसकी नजरबंदी पहले तीन महीने और बढ़ाई गई और फिर बुधवार को इसे दो महीने के लिए और बढ़ा दिया गया।

ये भी पढ़ें— भारतीय सेनाओं के अफसरों पर दुश्मन देशों की 'शातिर हसिनाओं' की नजर, हनी ट्रैप की रची है साजिश,...


पाक में इन दिनों मची है राजनीतिक उथल-फुथल

हाफिज सईद ने अपनी अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की अर्जी ऐसे वक्त में दी है जब पाकिस्तान राजनीतिक उथल-फुथल के दौर से गुजर रहा है। पानाम पेपर मामले में नवाज शरीफ को पाकिस्तान के पीएम का पद छोड़ना पड़ा है। वहीं शरीफ की मुख्य विपक्षी पार्टी तहरीक ए पाकिस्तान के नेता इमरान खान पर भी यौन उत्पीड़न के आरोप लगे हैं। ऐसे में पाकिस्तानी राजनीति में एक दूसरी धारा के उभार की संभावनाएं बढ़ रही हैं। हाफिज सईद की पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और सेना में अच्छी पैठ बताई जाती है। ऐसे में उसे अगर पार्टी बनाने की इजाजत मिल जाती है तो वह पाकिस्तान की राजनीति में अपनी पैठ बनाने की कोशिश करेगा।

ये भी पढ़ें— चीन ने आतंकी मसूद अजहर को बचाया, ग्लोबल टेरेरिस्ट सूची में नाम डालने में अटकाया रोड़ा

 

 

Todays Beets: