Monday, May 27, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

भारत के पास एयर स्ट्राइक के सबूत , सार्वजनिक करने पर सरकार ले सकती है कोई फैसला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारत के पास एयर स्ट्राइक के सबूत , सार्वजनिक करने पर सरकार ले सकती है कोई फैसला

नई दिल्ली । जम्मु कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने एयर स्ट्राइक को अंजाम देते हुए आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के सबसे बड़े कैंप के साथ लॉंचिंग पैड को ध्वस्त कर दिया। इस दौरान खबरें आईं कि वायुसेना ने इस एयरस्ट्राइक में करीब 300 आतंकियों को ढेर कर दिया है। इन खबरों के बाद जहां पाकिस्तान ने कुछ सवाल उठाए तो भारत में भी कुछ लोगों ने मारे गए आतंकियों से संबंधित सबूत को लेकर चर्चाएं की। इस सब के बाद रक्षा विभाग का कहना है कि उनके पास एयर स्ट्राइक के पूरे सबूत हैं। उनके पास सिंथेटिक अपर्चर रडार तस्वीरें हैं, जिनमें रडार के ठिकानों पर शक्तिशाली अटैक को साबित किया जा सकता है। एयर स्ट्राइक के दौरान आतंकियों के कैंप को नुकसान पहुंचाने संबंधी सबूतों के संबंध में बात करने पर रक्षा विभाग का कहना है कि सरकार तस्वीरों को जारी करने पर फैसला ले सकती है।

जमात ए इस्लामी पर शिकंजे के विरोध में मबबूबा मुफ्ती का प्रदर्शन , कहा- लोग गिरफ्तार कर सकते हो विचारधारा नहीं

बता दें कि पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले को लौटते वक्त एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटक से भरी कार को crpf की बस से टकरा दिया था, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना के बाद भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पीओके और पाकिस्तान के कुछ इलाकों में घुसकर एयर स्ट्राइक करते हुए जैश के आतंकी अड्डों को ध्वस्त कर दिया था।

अमेरिका ने पाकिस्तान से पूछा- हमने F-16 आतंकियों पर कार्रवाई के लिए दिया था या भारत पर हमले के लिए

इस घटना की तो पाकिस्तान की सेना ने पुष्टि की थी लेकिन भारतीय सेना द्वारा आतंकी ठिकानों को ध्वस्त किए जाने पर पाकिस्तान ने को बयान नहीं दिया। हालांकि पाकिस्तान के साथ भारत में भी कुछ लोगों ने एयर स्ट्राइक के सबूत मांगे।


पाकिस्तान नेशनल असेंबली में इमरान खान को शांति का नोबोल देने का प्रस्ताव पेश , ऑनलाइन याचिका दाखिल करने की शुरुआत

इस सब के बाद अब रक्षा विभाग से जुड़े सूत्रों का कहना है कि उनके पास एयर स्ट्राइक के पूरे सबूत हैं , लेकिन सरकार इन्हें सावर्जनिक करने पर कोई फैसला ले सकती है।

 

 

Todays Beets: