Monday, May 27, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

पराली जलाने के ‘साइड इफैक्ट’, 15 अक्टूबर से दिल्ली में बढ़ेगी पार्किंग फीस

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पराली जलाने के ‘साइड इफैक्ट’, 15 अक्टूबर से दिल्ली में बढ़ेगी पार्किंग फीस

नई दिल्ली। दिल्ली के पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने से प्रदूषण की समस्या एक बार फिर से बढ़ने की संभावना है। इससे निपटने के लिए सोमवार से ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान(जीआरएपी) लागू करने की कवायद तेज की जा सकती है। इस प्लान के तहत सोमवार से दिल्ली में पार्किंग फीस बढ़ाई जा सकती है और डीजल से चलने वाले जनरेटर पर भी बैन लगाया जा सकता है। किसानों द्वारा पराली जलाना जारी रखने के ऐलान के बाद यह प्लान लागू करने का फैसला लिया गया है। 

गौरतलब है कि मौसम विभाग ने हवा की दिशा बदलने के वजह से दिल्ली-एनसीआर और उसके आसपास के इलाकों में हवा की गुणवत्ता खराब होने की बात कही है। बता दें कि प्रदूषण नियंत्रण करने के लिए जीआरएपी वायु की गुणवत्ता खराब होने पर काम करती है। यह आॅड-ईवन के साथ शहर में होने वाले निर्माण कार्यों पर भी बैन लगाता है। 


ये भी पढ़ें - राफेल डील पर फ्रांसीसी कंपनी की सफाई, कहा-दसाॅल्ट ने खुद रिलायंस को चुना

यहां बता दें कि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने गुरुवार को हुई बैठक में बताया कि हवा की गुणवत्ता की स्थिति काफी खराब है। गौर करने वाली बात है कि पर्यावरण एवं विज्ञान मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा है कि पंजाब में पराली जलाने से न केवल देश का पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है बल्कि दुनिया में बदनामी भी होगी। उन्होंने कहा कि देश के पीएम को पर्यावरण संरक्षण के लिए संयुक्त राष्ट्र का पुरस्कार भी मिला है। ऐसे में राज्यों को इसकी अहमियत समझकर काम करना होगा। 

Todays Beets: