Monday, November 19, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

भगोड़े माल्या को लेकर सीबीआई के बहाने राहुल का पीएम पर हमला, कहा-बिना उनके आदेश के लुकआउट नोटिस बदल ही नहीं सकता

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भगोड़े माल्या को लेकर सीबीआई के बहाने राहुल का पीएम पर हमला, कहा-बिना उनके आदेश के लुकआउट नोटिस बदल ही नहीं सकता

नई दिल्ली। भारत के सबसे बड़े बैंक, स्टेट बैंक आॅफ इंडिया को करोड़ों रुपये का चूना लगाकर लंदन भाग चुके शराब कारोबारी विजय माल्या के बयान के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार भाजपा और प्रधानमंत्री पर हमला बोल रहे हैं। शुक्रवार को एक बार फिर से सीबीआई के बहाने उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि सीधे पीएम को रिपोर्ट करने वाली सीबीआई उनके आदेश के बिना लुकआउट नोटिस को नहीं बदल सकती है। बता दें कि गुरुवार को भी राहुल गांधी ने वित्त मंत्री पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए उनके इस्तीफे की मांग की थी। 

गौरतलब है कि गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीएल पुनिया को सबूत के तौर पर पेश करते हुए कहा कि इन्होंने खुद अपनी आंखों से संसद भवन में दोनों को बातें करते हुए देखा था। पीएल पुनिया ने तो 1 मार्च 2016 का सीसीटीवी फुटेज निकालकर देखने की भी चुनौती दी। राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए उनके इस्तीफे की मांग भी कर डाली। हालांकि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भगोड़े विजय माल्या से किसी भी तरह की मुलाकात से इंकार किया है।


ये भी पढ़ें - दहेज प्रताड़ना को लेकर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, कहा- गिरफ्तारी का अधिकार पुलिस के पास ही रहेगा

यहां आपको बता दें कि बुधवार को विजय माल्या ने लंदन की कोर्ट के बाहर यह कहा था कि लंदन आने से पहले उसने वित्त मंत्री से मुलाकात की थी। माल्या के इस बयान के बाद देश की राजनीति में भूचाल आ गया और दोनों ही पार्टियां एक दूसरे पर आरोपों की झड़ी लगा दी। राहुल गांधी का कहना है कि अरुण जेटली की मिलीभगत से ही माल्या देश से भाग पाया।गौर करने वाली बात है कि शुक्रवार को राहुल गांधी ने कहा कि सीबीआई सीधे प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करती है। ऐसे में बिना उनके आदेश के डिटेन नोटिस को इन्फॉर्म नोटिस में कैसे बदला जा सकता है।  

Todays Beets: