Sunday, February 17, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

भगोड़े माल्या को लेकर सीबीआई के बहाने राहुल का पीएम पर हमला, कहा-बिना उनके आदेश के लुकआउट नोटिस बदल ही नहीं सकता

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भगोड़े माल्या को लेकर सीबीआई के बहाने राहुल का पीएम पर हमला, कहा-बिना उनके आदेश के लुकआउट नोटिस बदल ही नहीं सकता

नई दिल्ली। भारत के सबसे बड़े बैंक, स्टेट बैंक आॅफ इंडिया को करोड़ों रुपये का चूना लगाकर लंदन भाग चुके शराब कारोबारी विजय माल्या के बयान के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार भाजपा और प्रधानमंत्री पर हमला बोल रहे हैं। शुक्रवार को एक बार फिर से सीबीआई के बहाने उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि सीधे पीएम को रिपोर्ट करने वाली सीबीआई उनके आदेश के बिना लुकआउट नोटिस को नहीं बदल सकती है। बता दें कि गुरुवार को भी राहुल गांधी ने वित्त मंत्री पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए उनके इस्तीफे की मांग की थी। 

गौरतलब है कि गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीएल पुनिया को सबूत के तौर पर पेश करते हुए कहा कि इन्होंने खुद अपनी आंखों से संसद भवन में दोनों को बातें करते हुए देखा था। पीएल पुनिया ने तो 1 मार्च 2016 का सीसीटीवी फुटेज निकालकर देखने की भी चुनौती दी। राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए उनके इस्तीफे की मांग भी कर डाली। हालांकि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भगोड़े विजय माल्या से किसी भी तरह की मुलाकात से इंकार किया है।


ये भी पढ़ें - दहेज प्रताड़ना को लेकर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, कहा- गिरफ्तारी का अधिकार पुलिस के पास ही रहेगा

यहां आपको बता दें कि बुधवार को विजय माल्या ने लंदन की कोर्ट के बाहर यह कहा था कि लंदन आने से पहले उसने वित्त मंत्री से मुलाकात की थी। माल्या के इस बयान के बाद देश की राजनीति में भूचाल आ गया और दोनों ही पार्टियां एक दूसरे पर आरोपों की झड़ी लगा दी। राहुल गांधी का कहना है कि अरुण जेटली की मिलीभगत से ही माल्या देश से भाग पाया।गौर करने वाली बात है कि शुक्रवार को राहुल गांधी ने कहा कि सीबीआई सीधे प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करती है। ऐसे में बिना उनके आदेश के डिटेन नोटिस को इन्फॉर्म नोटिस में कैसे बदला जा सकता है।  

Todays Beets: