Tuesday, July 17, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

लोनी में सब्जी की अवैध दुकानें हटाने गए दस्ते पर पथराव, कई लोग घायल

अंग्वाल संवाददाता
लोनी में सब्जी की अवैध दुकानें हटाने गए दस्ते पर पथराव, कई लोग घायल

लोनी। गाजियाबाद के लोनी इलाके में गुरुवार दोपहर अवैध सब्जी की दुकानों को सील करने गए दस्ते समेत पुलिसकर्मियों पर गुस्साए लोगों ने पथराव किया। इस दौरान भड़की हिंसा में कुछ लोग घायल हो गए हैं। वहीं पुलिस द्वारा भी लोगों पर लाठीचार्ज किए जाने की खबर है। इस घटना के बाद इलाके में तनाव का माहौल है, जिसके चलते वहां सुरक्षाबल तैनात कर दिए गए हैं। 

यह भी पढ़े- NGT का आदेश- डीजल की 10 साल और पेट्रोल की 15 साल पुरानी गाड़ियों पर प्रतिबंध

दरअसल, लोनी इलाके में एक जगह पर सब्जी वालों ने अवैध दुकानें बना डाली हैं। धीरे-धीरे यहां कई लोगों ने अवैध निर्माण कर लिया है, जिसे हटाने के लिए गुरुवार दोपहर एक टीम जेसीबी लेकर पुलिस दस्ते के साथ पहुंची। कार्रवाई करते हुए अभी मात्र 4-5 दुकानों पर ही कार्रवाई की गई थी कि एकाएक बाजार के कुछ लोग हिंसक हो गए। इन लोगों ने पुलिस टीम पर पथराव करना शुरू कर दिया। वहीं कुछ लोग जेसीबी पर चढ़े कर्मचारी को पीटने के लिए दौड़े। ऐसे में कर्मचारी वहां से भाग गया। इसके बाद अवैध दुकानों को हटाने की कार्रवाई करने पहुंचे दल पर हिसंक हुए लोगों ने जमकर पथराव किया। ऐसे में दोनों तरफ से पथराव होने लगा, जिसकी चपेट में आकर एक दर्जन से ज्यादा लोग चोटिल हो गए। 


यह भी पढ़े- जम्मू के 7,000 रेहिंग्याओं ने सुप्रीम कोर्ट में लगाई गुहार, कहा-केंद्र के वापस भेजने के आदेश ...

इन लोगों को निकट के अस्पताल में ले जाकर प्राथमिक उपचार दिया गया। हालांकि बाद में पुलिस बल ने इस हिंसा पर काबू पाते हुए लोगों को वहां से खदेड़ा। बावजूद इसके अभी अवैध निर्माण हटाने की कार्रवाई रुक गई है, जिसके बाद वहां सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

Todays Beets: