Friday, December 15, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

रामलीला मैदान में फैली गंदगी देख राम सेना समेत जुट गए सफाई अभियान में

अंग्वाल संवाददाता
रामलीला मैदान में फैली गंदगी देख राम सेना समेत जुट गए सफाई अभियान में

मेरठ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वच्छ भारत अभियान लोगों को पसंद आने लगा है। लोग अपनी ओर से कदम बढ़ाते हुए स्वच्छ भारत के मिशन में जुटने लगे हैं। हालिया घटनाक्रम मेरठ का है। यहां के जीमखाना क्लब में रामलीला का आयोजन होता है, लेकिन पिछले दिनों बारिश के दौरान मैदान पर आई गंदगी को जब अनुरोध के बावजूद स्थानीय निगम कर्मियों ने ठीक नहीं किया तो अपने पात्रों की वेशभूषा में ही 'राम सेना' समेत रामलीला से जुड़े लोगों ने ही मैदान की सफाई का जिम्मा उठाया। इन सभी ने पूरे मैदान को कुछ ही घंटों में चमका दिया। रामलीला के इन किरदारों की भूमिका की जहां अब शहर में चर्चा हो रही है, वहीं निगम प्रशासन के खिलाफ लोग अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं।

बता दे कि मेरठ के जीमखाना क्लब स्थित मैदान पर पिछले कई सालों से रामलीला का मंचन किया जाता है। इसी कड़ी में इस बार भी रामलीला आयोजित हुई है। लेकिन हाल में हुई बारिश के चलते मैदान पर काफी गंदगी फैल गई। जानकारी के अनुसार, मैदान पर गंदगी देखकर निगम कर्मचारियों को सफाई के लिए कहा गया, लेकिन बहुत देर तक निगम कर्मी वहां सफाई के लिए नहीं पहुंचे। ऐसे में 'राम की सेना' समेत रामलीला के अन्य पात्र खुद ही सफाई अभियान में जुट गए। 


इन लोगों ने हाथों में झाड़ू ली और लग गए मैदान की सफाई करने। हालांकि भगवान के किरदारों में उतरे इन लोगों को देख आम आदमी भी इनके साथ जुट गए और कुछ ही देर में इन लोगों ने पूरा मैदान साफ कर दिया। रामलीला कमेटी के सदस्यों और पात्रों की इस भावना को देखने वालों ने वहां इन लोगों को लिए जमकर तालियां बजाई। 

Todays Beets: