Thursday, August 16, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

संसद परिसर में एकाएक नजर आए ' सत्यासाईं बाबा' , आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य की मांग का कर रहे समर्थन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
संसद परिसर में एकाएक नजर आए

 नई दिल्ली । मीडिया का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने के लिए लोग क्या क्या नहीं करते, लेकिन जब बात किसी मुद्दे पर अपनी बात कहने के लिए कोई सांसद एक अनोखे रूप में सामने आए तो क्या कहेंगे। कुछ ऐसा ही किया है आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा मांग रहे तुलगुदेशम पार्टी के सांसद नरामली शिवाप्रसाद ने। अमूमन कई रूप धरने के लिए पहले भी सुर्खियों में आने वाले TDP सांसद शिवाप्रसाद इस बात सत्यासाई बाबा के रूप में अपनी बात रखते नजर आए। इस दौरान उनके साथ पार्टी के कई अन्य सांसद केंद्र सरकार को ध्यानार्थ श्लोगन लेकर खड़े थे। 

बता दें कि टीडीपी सांसद शिवप्रसाद अमूमन विरोध प्रदर्शन के दौरान अपने विभिन्न रूप धरने को लेकर सुर्खियों में रह चुके हैं। जहां एक ओर संसद में एनआरसी के मुद्दे पर गर्म थी, वहीं संसद के बाहर शिवप्रसाद अपने नए रूप में मौजूद थे। उन्होंने सत्यासाईं बाबा की तरह अपनी रूप धरा हुआ था । उन्होंने उन्हीं की तरह चोला पहना हुआ था और अपने बालों को भी उन्हीं की तरह घुंघराले रूप में बनाया हुआ था। वह आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग वाले श्लोगन लेकर खड़े थे।

असम में घुसपैठियों को लेकर भाजपा नेता का विवादित बयान, कहा-नहीं जा रहे तो गोली मार दो

पिछले हफ्ते इस मुद्दे को लेकर शिवप्रसाद ने कुछ अन्य रूप धारण किए थे। पिछले दिनों वह सुप्रसिद्ध कवि अन्नामया के रूप में नजर आए थे तो इसी तरह बालाजी के भक्त के रूप में दिखे थे। इतना ही नहीं बजट सत्र के अंतिम दिन शिवाप्रसाद ऋषि विश्वामित्र के रूप में नजर आए थे। इनके अलावा वह नारदमुनी से लेकर परशुराम के अवतार में भी लोगों के सामने आ चुके हैं। 


भाजपा के सर्वाधिक सांसद-विधायकों पर अपहरण के मुकदमे , ADR की रिपोर्ट में खुलासा- यूपी-बिहार के सबसे ज्यादा माननीय दागी 

बता दें कि टीएमसी सांसद शिवाप्रसाद पेशे से एक डॉक्टर हैं। उन्होंने कुछ फिल्मों में भी काम किया है।  

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त के भाषण के लिए मांगे सुझाव, जानें कैसे दे सकते हैं अपनी राय 

Todays Beets: