Friday, January 19, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी को baby powder के कारण भुगताना पड़ा 2700 करोड़ का जुर्माना, कैंसर की शिकार हुई महिला

अंग्वाल संवाददाता
जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी को baby powder के कारण भुगताना पड़ा 2700 करोड़ का जुर्माना, कैंसर की शिकार हुई महिला

अमेरिका। अमेरिका की अदालत ने  ब्यूटी केयर प्रोडक्ट बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन को एक बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने एक महिला की याचिका पर फैसला सुनाते हुए कंपनी को 4.17 करोड़ डॉलर यानी 2700 करोड़ का मुआवजा देने का आदेश दिया है। दरअसल, महिला को कंपनी के द्वारा बने पाउडर के इस्तेमाल से कैंसर की गंभीर बीमारी हो गई। कैलिफोर्निया निवासी ईवा ईचावेरिया ने अदालत में मुकदमा दायर कर जॉनसन एंड जॉनसन पर आरोप लगाया है कि कंपनी अपने ग्राहकों को पाउडर से होने वाले संभावित कैंसर की जानकारी नहीं दी। 

यह भी पढ़े- अब मुस्लिम महिलाओं के खतने की कुप्रथा खत्म करने के लिए पीएम को लिखी चिट्ठी, जानिए क्या कहा...

ईवा का कहना है कि उसने 1950 से 2016 तक कंपनी के बेबी पाउडर का इस्तेमाल किया। इसके बाद साल 2007 में उसे अपने गर्भाशय में कैंसर होने की जानकारी मिली। ईवा ने अदालत में कहा कि कंपनी के बेबी पाउडर के अनुमानित नतीजों के परिणामों के कारण वह कैंसर की शिकार हुई है। 

 


 

यह भी पढ़े- आरबीआई ने किया खुलासा, इस महीने में जारी करेंगे 200 रुपए का नया नोट 

आपको बता दें अदालत में कंपनी के पाउडर के खिलाफ कई शिकायत के मामले चल रहे हैं। इन मामलो में कंपनी पर लगाए जुर्माने की यह अब तक की सबसे बड़ी राशि है। ईवा के वकील ने कहा कि इस फैसले से कंपनी को सीख मिलेगी और आगे जॉनसन एंड जॉनसन आपने ग्राहकों को उत्पादों के बारे में चेतावनी पूर्ण रुप से देगी। साथ ही उन्होंने बताया कि ईवा इस समय अस्पताल में भर्ती है और कैंसर के गंभीर उपचार से गुजर रही है। कंपनी के दशकों पुराने आंतरिक दस्तावेजों के आधार पर अदालत ने माना कि जॉनसन एंड जॉनसन अपने बेबी पाउडर से होने वाले कैंसर के संभावित खतरे से पूरी तरह परिचित थी।  

Todays Beets: