Saturday, September 23, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

दिल्ली के 449 स्कूलों को सरकार करेगी टेकओवर, उपराज्यपाल ने दी मंजूरी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दिल्ली के 449 स्कूलों को सरकार करेगी टेकओवर, उपराज्यपाल ने दी मंजूरी

नई दिल्ली। प्राईवेट स्कूलों की मनमानी पर रोक लगाने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली सरकार को 449 निजी स्कूलों को टेकओवर करने के आदेश को मंजूरी दे दी है। अब ये स्कूल अभिभावकों से मनमाना फीस नहीं वसूल सकेंगे। बता दें कि दिल्ली सरकार ने इन स्कूलों को फीस न बढ़ाने के निर्देश थे लेकिन फीस वसूली के बाद स्कूलों ने अभिभावकों को पैसे नहीं लौटाए।  

नहीं मानी कोर्ट की बात

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार ने 449 प्राइवेट स्कूलों को टेकओवर करने का प्रस्ताव दिया था। इस सूची में दिल्ली पब्लिक स्कूल मथुरा रोड, स्प्रिंग डेल, एमिटी इंटरनेशनल साकेत, संस्कृति स्कूल, मॉडर्न पब्लिक स्कूल भी शामिल हैं। दिल्ली सरकार ने दिल्ली हाईकोर्ट में हलफनामा देकर कहा था कि 449 प्राइवेट स्कूल हाईकोर्ट की बनाई समिति की सिफारिश नहीं मान रहे और लगातार नियम का उल्लंघन कर रहे हैं इसलिए सरकार इनको टेकओवर करने को तैयार है।


ये भी पढ़ें - मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी कर्नल पुरोहित 9 सालों के बाद लेंगे खुली हवा में सांस, सर्वोच्च आदलत...

कारण बताओ नोटिस

यहां बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा था कि वे दिल्ली के अभिभावकों की अनदेखी नहीं होने देंगे। वे इन स्कूलों के खिलाफ नहीं है। वह तो बस इतना चाहते हैं कि ये स्कूल जस्टिस अनिल देव सिंह की सिफारिशों को लागू कर दें। यदि ये स्कूल इस सिफारिश को लागू नहीं करते हैं तो सरकार उन्हें टेकओवर कर लेगी। इस मामले पर सफाई देते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि इसमें कुछ माइनाॅरिटी के स्कूल हैं, कुछ ने पैसे लौटा दिए हैं। उसके बाद ये 449 स्कूल बचते हैं जिन्हें पहले शोकाॅज नोटिस भेजा गया था। सिसोदिया ने कहा कि कई प्राईवेट स्कूलों में पढ़ाई अच्छी होती है लेकिन वे हाईकोर्ट और जस्टिस अनिल देव की सिफारिशों को नहीं मानेंगे तो सरकार उनका टेकओवर करेगी।  

Todays Beets: