Thursday, January 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

कश्मीर को लेकर फारूख अब्दुल्ला ने दिया एक और विवादित बयान, कहा- जब तक नहीं जीतेंगे लोगों का दिल, हिन्दुस्तान का नारा नहीं लगाऊंगा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कश्मीर को लेकर फारूख अब्दुल्ला ने दिया एक और विवादित बयान, कहा- जब तक नहीं जीतेंगे लोगों का दिल, हिन्दुस्तान का नारा नहीं लगाऊंगा

नई दिल्ली। अक्सर विवादों में रहने वाले पूर्व केन्द्रीय मंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूख अब्दुल्ला ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है। केन्द्र पर हमला करते हुए फारूख अब्दुल्ला ने कहा कि जब तक कश्मीरी लोगों का दिल नहीं जीता जाता तब तक वे हिन्दुस्तान का नारा नहीं लगाएंगे। बता दें कि यह बयान उन्होंने एक बार फिर से नेशनल कांफ्रेंस पार्टी का निर्विरोध अध्यक्ष चुने जाने के बाद दिया है। 

निर्विरोध चुने गए फारूख

गौरतलब है कि फारूख अब्दुल्ला को एक बार फिर से नेशनल कांफ्रेंस का अध्यक्ष चुन लिया गया है, पार्टी नेता अली मोहम्मद सागर ने इस बात की पुष्टि की है। निर्विरोध अध्यक्ष चुने जाने के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री डाॅक्टर फारूख अब्दुल्ला ने कहा कि अब वे अध्यक्ष के पद पर बने नहीं रहना चाहते हैं। इसके साथ ही उन्होंने केन्द्र पर हमला करते हुए कहा कि सरकार को कश्मीर को लेकर अपनी स्थिति साफ करनी चाहिए। कश्मीर के लोगों के दिलों को जबतक नहीं जीता जाता है तब तक वे हिन्दुस्तान का नारा नहीं लगाएंगे। फारूख अब्दुल्ला ने ये भी कहा कि अगर सरकार कश्मीर की बेहतरी चाहती है तो हमें  स्वायत्त्ता प्रदान कर दे। इस मौके पर उमर अब्दुल्ला ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि यहां बहुत सी बातें हो रही थीं। आज इस फैसले से कई लोग हैरान हुए होंगे। वे सोच रहे होंगे कि यह कैसे हो गया, लेकिन यह अंदर की बात है। उमर ने कहा कि आज नेशनल कांफ्रेंस को डॉ. फारूक अब्दुल्ला की पहले से कहीं ज्यादा जरूरत है। उन्होंने कश्मीर समस्या के समाधान के लिए आंतरिक और बाहरी मोर्चे पर बातचीत की प्रक्रिया पर जोर दिया।

ये भी पढ़ें - नवंबर से सस्ती हो जाएंगी ये चीजें! जीएसटी काउंसिल की बैठक में लगेगी मुहर


बातचीत की प्रक्रिया

आपको बता दें कि केन्द्र सरकार ने राज्य में स्थिति को सुधारने के लिए वहां हर तबके के लोगों से बातचीत की प्रक्रिया भी शुरू की है और इसके लिए आईबी के पूर्व प्रुमख दिनेश्वर शर्मा को नियुक्त भी कर चुकी है। 

 

Todays Beets: