Monday, October 22, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

जम्मू कश्मीर के पंचायत चुनाव में खिला कमल, 5 उम्मीदवारों के खिलाफ नहीं उतरा कोई 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जम्मू कश्मीर के पंचायत चुनाव में खिला कमल, 5 उम्मीदवारों के खिलाफ नहीं उतरा कोई 

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में होने वाले निकाय और पंचायत चुनाव के पहले चरण में भारतीय जनता पार्टी के 5 उम्मीदवारों का जीतना तय है। खबरों के अनुसार नामों की स्क्रूटनी करने के बाद पता चला कि इनके खिलाफ किसी उम्मीदवार ने पर्चा दाखिल ही नहीं किया है। बता दें कि घाटी में अनुच्छेद 35 ए के मसले को लेकर नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी ने चुनाव का बहिष्कार किया है। ऐसे में मैदान में सिर्फ कांग्रेस और भाजपा ही हैं। स्थानीय खबरों के अनुसार आतंकियों के द्वारा दी जा रही धमकी भी लोगों के चुनाव में हिस्सा न लेने की बड़ी वजह है। 

गौरतलब है कि आतंकियों ने चुनाव से पहले ही कई जिलों के पंचायत घरों में आग लगा दी थी। आतंकियों ने स्थानीय नौजवानों को एसपीओ, पुलिस या सेना में भर्ती न होने और कार्यरत लोगों को नौकरी छोड़ने की धमकी दी थी। धमकी के बाद आतंकियों ने 4 स्पेशल पुलिस आॅफिसर (एसपीओ) को अगवा कर लिया था जिनमें 3 की हत्या कर दी गई थी और 1 को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया था। वहीं दूसरी ओर राज्य में अनुच्छेद 35 ए को खत्म करने की बात को लेकर दोनों राजनीतिक पार्टियां, नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी ने पंचायत चुनाव के बहिष्कार का ऐलान किया था। 


ये भी पढ़ें - आम आदमी ही नहीं पीएम भी जूझ रहे हैं काॅल ड्राॅप समस्या से, दिए तकनीकी समाधान निकालने के निर्देश

यहां बता दें कि दोनों पार्टियों के मैदान से हटने के बाद कांग्रेस और भाजपा के बीच मुकाबला होना है। बुधवार को नामांकन पत्रों की जांच के आखिरी दिन स्क्रूटनी करने के बाद भाजपा के 5 उम्मीदवारों के खिलाफ किसी ने पर्चा ही दाखिल नहीं किया। ऐसे में इनकी जीत तय है और सिर्फ नामों की औपचारिक घोषणा की जानी है। इनमें देवसार म्यूनिसपल कमेटी से सतीश कुमार जुत्शी, अच्छाबल म्यूनिसपल कमेटी से उर्मिला बाली और रिशव बाली, कुलगाम म्यूनिसपल कमेटी से ज्योति गोसानी और बबलू गोसानी शामिल हैं।  

Todays Beets: