Sunday, December 16, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

महिला ने घर में शौचालय न होने पर लिया तलाक, अदालत ने कहा मानसिक क्रूरता

अंग्वाल संवाददाता
महिला ने घर में शौचालय न होने पर लिया तलाक, अदालत ने कहा मानसिक क्रूरता

जयपुर। हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘टॉयलेट  एक प्रेम कथा’ में भारत में शौच को लेकर गंभीर समस्या को उजागर किया है। जिसमें हीरो की पत्नी घर में शौचालय न होने पर विरोध करते हुए पति से तलाक लेने के लिए कोर्ट में अर्जी देती है। ऐसा ही एक मामला राजस्थान के भीलवाड़ा में एक महिला ने घर में शौचालय ने होने पर अपने पति से तलाक ले लिया है। पीड़िता ने घर में शौचालय न होने पर परिवार से शिकायत की और खुले में शौच के लिए जाने का विरोध किया। महिला के वकील ने बताया कि, पीड़िता की शादी 2011 में हुई थी, लेकिन सुसराल में शौचालय नहीं होने से उसे खुले में शौच के लिए जाना पड़ता था। इस शर्मिंदगी के कारण पत्नी ने अपने पति से शौचालय बनवाने के लिए कहा। पति ने शौचालय नहीं बनवाया तो 20 अक्टूबर 2015 को भीलवाड़ा के पारिवारिक न्यायलय में पीड़िता ने तलाक याचिका दर्ज कर दी। अदालत ने महिला की तालाक की अर्जी को कबूल करते हुए भारत में शौच को मानसिक क्रूरता और महिलाओं की गरिमा के खिलाफ बताया है। 

यह भी पढ़े- सीएम योगी ने गोरखपुर का किया दौरा, राहुल और अखिलेख पर साधा निशाना

 

 


खुले में शौच करने पर जेल में बंद

ऐसा ही एक और मामला भी भिलवाड़ा से सामने आया है। भीलवाड़ा के जहाजपुर गांव के एसडीएम करतार सिंह ने लोगों को खुले में शौच करते देखा तो पहले उन्हें समझाया लेकिन लोगों ने उनकी बात नहीं मानी तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने छह घंटे तक उन अपराधियों को बंद रखा और उन पर 10 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया। साथ ही पुलिस ने उन्हें इस चेतावनी और वादे के साथ छोड़ा कि वह 10 दिन के अंदर अपने घर में शौचालय बन बनवाएंगे।  

यह भी पढ़े- RBI जल्द लाएगा 50 रुपये का नया नोट, जारी हुई तस्वीर, जानें क्या हैं इसकी खूबियां

 

 

Todays Beets: