Tuesday, December 11, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

चांदनी चौक में आयकर विभाग का छापा, साबुन की दुकान के नीचे मिले 300 प्राईवेट लाॅकर, 30 करोड़ बरामद 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चांदनी चौक में आयकर विभाग का छापा, साबुन की दुकान के नीचे मिले 300 प्राईवेट लाॅकर, 30 करोड़ बरामद 

नई दिल्ली। दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में एक साबुन और सूखे मेवे की दुकान के बेसमेंट में  300 प्राईवेट लाॅकर होने का खुलासा हुआ है। फिलहाल आयकर विभाग के द्वारा 100 लाॅकरों को खोला जा चुका है और वहां से करीब 30 करोड़ रुपये बरामद किए जा चुके हैं। अभी बाकी के 200 लाॅकरों को खोलना बाकी है। बताया जा रहा है कि इस छोटी दुकान के नीचे इतनी बड़ी संख्या में लाॅकरों को क्यों बनाया गया था इसकी जानकारी कोई नहीं दे रहा है। पुलिस अब हवाला ट्रांजेक्शन के साथ अन्य एंगल से भी इसकी जांच में जुट गई है। फिलहाल वहां बड़ी संख्या में पुलिस को तैनात कर दिया गया है। 

गौरतलब है कि आयकर विभाग को 5 नवंबर को इन लाॅकरों के बारे में जानकारी मिली थी इसके बाद वहां छापा मारा गया। अब आयकर विभाग के अधिकारी हर रोज आकर यहां लाॅकरों को खोलकर उसमें रखे गए रुपये को गिन रहे हैं। फिलहाल 300 में से 100 लाॅकरों को खोला जा चुका है और उनमें से 30 करोड़ रुपये निकाले जा चुके हैं। खबरों के अनुसार जिन लोगों की रकम के बारे में पता चला है उनमें से कुछ से पूछताछ भी की जा रही है। 


ये भी पढ़ें - आयकर विभाग की मिलीभगत से फरार हुआ नीरव मोदी!, जांच रिपोर्ट में हुआ खुलासा

यहां बता दें कि चांदनी चौक के इस छोटी से दुकान के बेसमेंट में इतनी बड़ी संख्या में लाॅकरों को क्यों बनाया गया है इस गुत्थी को पुलिस सुलझा नहीं पाई है। अब बाकी के 200 लाॅकरों को खोलना बाकी है। पुलिस अब यहां से मिली रकम को लेकर हवाला ट्रांजेक्शन, आतंकी फंडिंग और अन्य एंगल से भी जांच में जुट गई है। 

Todays Beets: