Saturday, May 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

चांदनी चौक में आयकर विभाग का छापा, साबुन की दुकान के नीचे मिले 300 प्राईवेट लाॅकर, 30 करोड़ बरामद 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चांदनी चौक में आयकर विभाग का छापा, साबुन की दुकान के नीचे मिले 300 प्राईवेट लाॅकर, 30 करोड़ बरामद 

नई दिल्ली। दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में एक साबुन और सूखे मेवे की दुकान के बेसमेंट में  300 प्राईवेट लाॅकर होने का खुलासा हुआ है। फिलहाल आयकर विभाग के द्वारा 100 लाॅकरों को खोला जा चुका है और वहां से करीब 30 करोड़ रुपये बरामद किए जा चुके हैं। अभी बाकी के 200 लाॅकरों को खोलना बाकी है। बताया जा रहा है कि इस छोटी दुकान के नीचे इतनी बड़ी संख्या में लाॅकरों को क्यों बनाया गया था इसकी जानकारी कोई नहीं दे रहा है। पुलिस अब हवाला ट्रांजेक्शन के साथ अन्य एंगल से भी इसकी जांच में जुट गई है। फिलहाल वहां बड़ी संख्या में पुलिस को तैनात कर दिया गया है। 

गौरतलब है कि आयकर विभाग को 5 नवंबर को इन लाॅकरों के बारे में जानकारी मिली थी इसके बाद वहां छापा मारा गया। अब आयकर विभाग के अधिकारी हर रोज आकर यहां लाॅकरों को खोलकर उसमें रखे गए रुपये को गिन रहे हैं। फिलहाल 300 में से 100 लाॅकरों को खोला जा चुका है और उनमें से 30 करोड़ रुपये निकाले जा चुके हैं। खबरों के अनुसार जिन लोगों की रकम के बारे में पता चला है उनमें से कुछ से पूछताछ भी की जा रही है। 


ये भी पढ़ें - आयकर विभाग की मिलीभगत से फरार हुआ नीरव मोदी!, जांच रिपोर्ट में हुआ खुलासा

यहां बता दें कि चांदनी चौक के इस छोटी से दुकान के बेसमेंट में इतनी बड़ी संख्या में लाॅकरों को क्यों बनाया गया है इस गुत्थी को पुलिस सुलझा नहीं पाई है। अब बाकी के 200 लाॅकरों को खोलना बाकी है। पुलिस अब यहां से मिली रकम को लेकर हवाला ट्रांजेक्शन, आतंकी फंडिंग और अन्य एंगल से भी जांच में जुट गई है। 

Todays Beets: