Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

जलवायु और मौसम में फर्क होता है, असम की 18 साल की लड़की ने राष्ट्रपति ट्रंप को समझाया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जलवायु और मौसम में फर्क होता है, असम की 18 साल की लड़की ने राष्ट्रपति ट्रंप को समझाया

नई दिल्ली। भारतीय राज्य असम के जोरहाट की एक लड़की ने ग्लोबल वाॅर्मिंग का मजाक उड़ाने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के द्वारा दिए गए बयान पर उन्हें आड़े हाथों लिया है। आस्था सरमाह नाम की इस लड़की ने अमेरिकी राष्ट्रपति को मौसम और जलवायु में फर्क बताया है। बता दें कि इसी महीने की 21 नवंबर को अमेरिका में तापमान शून्य से 2 डिग्री नीचे चला गया था। इस पर ट्वीट करते हुए राष्ट्रपति ट्रंप “क्रूर और विस्तारित ठंड तमाम रिकॉर्ड तोड़ देगी, ग्लोबल वार्मिंग के साथ जो कुछ भी हुआ हो?”

गौरतलब है कि ट्रंप के इस ट्वीट पर कमेंट करते हुए असम की 18 साल की आस्था सरमाह ने कहा कि ‘‘मैं आपसे 54 साल छोटी हूं और कुछ ही दिनों पहले 10वीं की परीक्षा औसत अंकों के साथ पास की है लेकिन मैं आपको बता सकती हूं कि मौसम और जलवायु में फर्क होता है। अगर आपको इसके बारे में नहीं मालूम तो मैं आपको अपनी इनसाइक्लोपीडिया दे सकती हूं जो मेरे पास दूसरी कक्षा में थी। इसमें दृश्य और हर चीज है।”

 


ये भी पढ़ें - सार्क सम्मेलन का हिस्सा नहीं होगा भारत, आतंकवाद और बात एक साथ नहीं- सुषमा स्वराज

यहां बता दें कि आस्था सरमाह के इस कमेंट को दुनिया भर में 22000 लाइक्स मिले हैं। अमेरिका में भी कई लोगों ने आस्था के द्वारा राष्ट्रपति ट्रंप को दिए गए जवाब की सराहना की है। किशोरी के इस ट्वीट को 5100 बार रिट्वीट किया गया और कइयों ने आस्था को “भविष्य की आशा” बताते हुए उसकी प्रशंसा की। बड़ी बात यह भी है कि कुछ लोगों ने अरब सागर पर जलवायु परिवर्तन के असर को लेकर आस्था को इंटर्नशिप कराने की पेशकश भी की है। 

 

Todays Beets: