Monday, November 20, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

फिर एक भविष्यवाणी, 21 अगस्त को पूर्ण सूर्यग्रहण के बाद 7 सालों में दुनिया की 75 फीसदी आबादी हो जाएगी खत्म

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फिर एक भविष्यवाणी, 21 अगस्त को पूर्ण सूर्यग्रहण के बाद 7 सालों में दुनिया की 75 फीसदी आबादी हो जाएगी खत्म

अमूमन पृथ्वी के अंत को लेकर कई तरह की कहानियां और किस्से समय समय पर उठते रहते हैं। एक बार फिर एक नया किस्सा सामने आया है। बात हो रही है 21 अगस्त को होने वाले पूर्ण सूर्यग्रहण की जो 99 साल बाद आ रहा है। कई लोग इन दिन को एपोकलिप् वीक यानी धरती के अंत का अंतिम सप्ताह करार दे चुके हैं। चर्चाएं हो रही हैं कि पूर्ण सूर्यग्रहण होने का मतलब है दुनिया का अंत। भारत समेत एशियाई देशों में भले ही ये चर्चाएं कम हों लेकिन अमेरिका समेत यूरोप के कई देशों में ये चर्चाएं चरम पर हैं और दुनिया भर से लाखों की संख्या में लोग अमेरिका के विभिन्न शहरों में इस सूर्यग्रहण को देखने के लिए पहुंच रहे हैं। 


असल में इन चर्चाओं के पीछे एक ईसाई भविष्यवाणी वेबसाइट की बातों को भी तवज्जों दी जा रही है, जिसका कहना है कि 21 अगस्त को होने वाले सूर्यग्रहण के बाद से दुनिया में क्लेश की शुरुआत होगी। इसी के कारण आने वाले 7 सालों में दुनिया की 75 फीसदी आबादी खत्म हो जाएगी। हालांकि सौर ग्रहण एक खगोलीय घटना है, जिसमें सूर्य और पृथ्वी के बीच से चंद्रमा गुजरता है। जब सूरज के सभी हिस्से को चंद्रमा ढंक लेता है, तो उसे सूर्य ग्रहण कहा जाता है। यह प्रक्रिया लगभग तीन घंटे तक चलती है। ग्रहण के लिए सबसे लंबी अवधि लगभग दो मिनट 40 सेकंड की होती है, जब चंद्रमा पूरी तरह से सूर्य को ढंक लेता है। 

Todays Beets: