Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

अब एटीएम में रखे पैसे भी सुरक्षित नहीं, चूहों ने कुतरे 12 लाख रुपये

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब एटीएम में रखे पैसे भी सुरक्षित नहीं, चूहों ने कुतरे 12 लाख रुपये

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एटीम रखरखाव पर एक बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। असम के तिनसुकिया के एक एटीएम में चूहों ने 10-20 हजार नहीं बल्कि पूरे 12 लाख रुपये के नोट कुतर डाले। यह मामला 11 जून को तब सामने आया जब किसी ने इस पूरी घटना की फोटो सोशल मीडिया पर डाली जिसके बाद यह वायरल हो गई।

तिनसुकिया में जब एसबीआई एटीएम के बंद होने की शिकायत आई। इस पर कर्मचारी मशीन ठीक करने पहुंचे जब मशीन खोली गई तो सब हैरान रह गए। उन्होंने देखा की एटीएम में रखे 500 और 2000 के नोटों को चूहों ने बुरी तरह कुतर दिए है। इस बारे में एक बैंक अधिकारी ने बताया की यह एटीएम 20 मई से तकनीकी रुप से खराब बंद था।

ये भी पढ़े-लखनऊ के होटल में लगी भीषण आग, 5 पर्यटक गंभीर रूप से झुलसे

11 जून को शिकायत मिलने पर जब कर्मचारी मशीन ठीक करने पहुंचे तब यह घटना सामने आई। बता दें कि बैंक अधिकारी ने इस घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि चूहों ने लगभग 12 लाख 38 हजार के नोट कुतर दिए। सिर्फ 17 लाख के नोट ही बच पाए हैं। जीबीएस ने 19 मई को मशीन में 20 लाख रुपये डाले थे जिसके अगले दिन से ही एटीएम ने काम करना बंद कर दिया था।


गौरतलब है कि इस घटना कि जांच को लेकर एफआईआर दर्ज करवाई गई है। कुछ लोगों ने इस घटना को लेकर संदेह जाहिर किया है उनका कहना है कि 20 मई के एटीएम बंद हुआ और करीब एक महीने बाद मैकेनिक मशीन ठीक करने पहुंचे।

 

 

Todays Beets: