Monday, December 10, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

बिहार के गोदाम में चूहों ने एक बार फिर छलकाए ‘जाम’, पी गए सैंकड़ों लीटर शराब

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बिहार के गोदाम में चूहों ने एक बार फिर छलकाए ‘जाम’, पी गए सैंकड़ों लीटर शराब

पटना। बिहार में अपराधियों के साथ चूहे भी बेखौफ हो गए हैं। राज्य में शराबबंदी होने के बाद भी सैंकड़ों लीटर शराब चूहे पी गए। कैमूर जिले के गोदाम में बिहार के अलग-अलग इलाकों में पकड़े गए अवैध शराब के जखीरे को रखा गया था, जब उसे नष्ट करने के लिए निकाला गया तो उसके पहले और बाद के हिसाब में 10 रुपये कस अंतर पाया गया। बता दें कि राज्य में चूहों के द्वारा शराब पी जाने का दूसरा मामला है। 

गौरतलब है कि राज्य के उत्पादन विभाग ने साल 2016 से लेकर अभी तक पकड़े गए शराब के जखीरे को कैमूर जिले के गोदाम में रखा गया था। बताया जा रहा है कि शराब को नष्ट करने से पहले हिसाब लगाया गया तो उसमें पहले के मुकाबले 10 हजार रुपये का अंतर आया जिसके बाद पता चला कि जो शराब कम है वह चूहों ने पी ली है।

ये भी पढ़ें -पुलिस की करतूतों पर ‘अपने’ ही हुए योगी पर हमलावर, कहा- पैसे लेकर हत्या कर रही है 


यहां आपको बता दें कि जिला प्रशासन ने 11 हजार लीटर शराब को नष्ट किया है। इसकी कीमत करीब 30 लाख रुपये बताया जा रहा है। मजिस्ट्रेट के सामने शराब की बोतलों को रोलर से नष्ट किया गया। नष्ट किए गए शराब में देशी विदेशी के अलावा बीयर भी शामिल है। इस बारे में एसडीएम कुमारी अनुपम सिंह का कहना है कि शराब के कार्टन को नष्ट कर दिया गया है और इसका भौतिक सत्यापन चल रहा है कि चूहों ने कितनी शराब नष्ट की है। जांच के बाद ही पूरी स्थिति का पता चल पाएगा।

गौरतलब है कि साल 2017 में भी बिहार में जब्त करीब 9 लाख लीटर से अधिक की शराब चूहे पी गए थे। खबर की जानकारी मिलते ही बिहार पुलिस मुख्यालय ने जांच के आदेश दिए थे। उस समय बिहार के राजनीतिक गलियारों में इस मुद्दे पर खूब बहस हुई थी।  साथ ही आरोप और प्रत्यारोप का भी दौर चला था।

Todays Beets: