Saturday, February 23, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

पूर्वी दिल्ली में कुत्ते पालने के शौकीन सावधान, बढ़ने वाले हैं पंजीकरण फीस  

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पूर्वी दिल्ली में कुत्ते पालने के शौकीन सावधान, बढ़ने वाले हैं पंजीकरण फीस  

नई दिल्ली। अगर आप पूर्वी दिल्ली में रहते हैं और कुत्ते पालने के शौकीन हैं तो संभल जाएं। पूर्वी दिल्ली में पालतु कुत्तांे का पंजीकरण फीस 10 गुना महंगा होने जा रहा है। इसका मतलब यह है कि अब सालाना पंजीकण फीस 50 रुपये से बढ़ाकर 500 रुपये की जाएगी। इस प्रस्ताव को स्थाई समिति की बैठक में पास कर दिया गया है। हाईकोर्ट ने खास नस्ल वाले कुत्तों के अवैध प्रजनन पर रोक लगाने की मांग पर भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड से जवाब मांगा है।

गौरतलब है कि दिल्ली नगर निगम अधिनियम 1957 की धारा 399 के तहत कुत्तों के (पंजीकरण एवं उनके नियंत्रण) को लेकर नीति में बदलाव करने की प्रक्रिया चल रही थी। इसके लिए स्थायी समिति के पटल पर प्रस्ताव रखा गया। इसमें कहा गया कि कुत्ते पालने के शौकीन लोगों को पंजीकरण सुविधा ऑनलाइन मुहैया कराई जानी चाहिए। बताया जा रहा है कि इस प्रस्ताव को सदन मंे पेश किया जा चुका है वहां से हरी झंडी मिलते ही इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

ये होंगी पंजीकरण प्रक्रिया

- पंजीकरण फीस 50 रुपये से बढ़कर 500 रुपये होगी।

- कुत्ता पालने वाले मालिक का नाम।

- पंजीकरण करते हुए कुत्ते की तस्वीर अपलोड करनी होगी।


- कुत्ते की नस्ल, आयु और लिंग भी आवदेन पत्र में भरना होगा।

- पंजीकरण की वैधता के साथ कुत्ते का टोकन कार्ड भी उपलब्ध कराया जाएगा।

- पंजीकरण 1 अप्रैल से 31 मार्च तक एक साल की अवधि के लिए वैध होगा जो कि कुत्ते के रेबीज विरोधी टीकाकरण की तिथि से एक वर्ष की अवधि के लिए वैध होगा।

- गलत जानकारी पर पंजीकरण को रद्द करने का भी प्रावधान है।

- कुत्ते के गले में चेन या पट्टा लगाना अनिवार्य होगा।

-अवैध प्रजनन पर जीव जंतु कल्याण बोर्ड से जवाब मांगा है। 

Todays Beets: