Tuesday, January 22, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

अब मध्यप्रदेश में अकेले चुनाव लड़ेगी रालोसपा, 66 उम्मीदवारों की सूची की जारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब मध्यप्रदेश में अकेले चुनाव लड़ेगी रालोसपा, 66 उम्मीदवारों की सूची की जारी

नई दिल्ली। बिहार में सीटों के बंटवारे को लेकर मची उठापटक के बाद राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के मुखिया उपेन्द्र कुशवाहा ने मध्यप्रदेश में अपने दम पर ही चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। खबरों के अनुसार कुशवाहा ने अपने 66 उम्मीदवारों की सूची भी जारी कर दी है। उन्होंने बताया कि बिहार में उनकी पार्टी की सीटों को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है। उपेन्द्र कुशवाहा ने बताया कि आने वाले समय में सीटों को लेकर फैसला ले लिया जाएगा। 

गौरतलब है कि पहले इस बात के कयास लगाए जा रहे थे जदयू और भाजपा के बीच आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सीटों का बंटवारा हो गया और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के साथ कोई बात नहीं की गई। यहां बता दें कि मंगलवार को रालोसपा के प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा दिल्ली पहुंचकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने अपने आधिकारिक निवास पर प्रेस कांफ्रेंस कर पत्रकारों को बताया कि मध्यप्रदेश में उनकी पार्टी अकेले ही चुनाव लड़ेगी। 

ये भी पढ़ें - सीएम शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय ने राहुल गांधी पर किया मानहानि का मुकदमा 


यहां बता दें कि कुशवाहा द्वारा प्रेस कांफ्रेंस करने से पहले रामविलास पासवान और भाजपा प्रभारी भूपेन्द्र यादव से मुलाकात के बाद इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि वे मंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं। हालांकि उपेन्द्र कुशवाहा ने साफ कर दिया कि वे एनडीए का साथ नहीं छोड़ रहे हैं और जल्द ही सीटों को लेकर भी सहमति बन जाएगी। 

गौर करने वाली बात है कि उपेन्द्र कुशवाहा के राजद नेता तेजस्वी यादव से मुलाकात के बाद भी राजनीतिक गलियारों में इस बात की चर्चा तेज हो गई थी कि सम्मानजनक सीट नहीं मिलने पर वे एनडीए छोड़कर महागठबंधन के साथ जुड़ सकते हैं। 

Todays Beets: