Friday, April 26, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

लंबे समय से दरकिनार किए गए शिवपाल यादव ने बनाया नया मोर्चा, समाजवादी पार्टी में खलबली 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लंबे समय से दरकिनार किए गए शिवपाल यादव ने बनाया नया मोर्चा, समाजवादी पार्टी में खलबली 

लखनऊ। काफी लंबे समय से समाजवादी पार्टी से दरकिनार किए गए नेता शिवपाल सिंह ने बुधवार को समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा के गठन का ऐलान कर दिया है। शिवपाल सिंह ने मोर्चे का ऐलान करते हुए कहा कि वे पार्टी में उपेक्षित लोगों को जोड़ने के साथ ही छोटी पार्टियों को भी अपने साथ जोड़ने का प्रयास करेंगे। नए मोर्चे का ऐलान करने से पहले शिवपाल सिंह से अपने बड़े भाई मुलायम सिंह यादव से भी मुलाकात की थी। हालांकि शिवपाल सिंह ने कहा कि उन्होंने समाजवादी पार्टी अभी छोड़ी नहीं है। नए मोर्चा के गठन से समाजवादी पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है। 

गौरतलब है कि उत्तरप्रदेश के विधानसभा चुनाव के समय ही समाजवादी पार्टी की पारिवारिक कलह सामने आई थी। इसके बाद से ही शिवपाल सिंह यादव और उनके भतीजे अखिलेश यादव के बीच तल्ख्यिां सामने आने लगी थीं। कुछ समय बाद ही उनकी अलग पार्टी बनाने की बातें भी सामने आई थी, यहां तक की इस बात के भी कयास लगाए जा रहे थे कि वे भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं। हालांकि शिवपाल यादव ने इसे महज अफवाह बताया है। 

ये भी पढ़ें - आशुतोष के ट्वीट से ‘आप’ में मचा हड़कंप, केजरीवाल पर जातिगत राजनीति करने का आरोप


यहां बता दें कि शिवपाल सिंह यादव ने पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि न तो उन्हें कोई काम ही करने दिया जा रहा है और न ही उनके जैसे नेताओं की कोई इज्जत की जा रही है। शिवपाल ने कहा कि वे नेताजी के प्रति पार्टी के व्यवहार से भी काफी दुखी हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी से उपेक्षित लोगों के लिए समाजवादी सेक्यूलर मोर्चे का गठन किया गया है। शिवपाल यादव ने मोर्चे के गठन से पहले समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव से भी लोहिया ट्रस्ट की बैठक में मुलाकात की थी। इस मिलन के दौरान ही सेक्यूलर मोर्चे के गठन को लेकर चर्चा की गई थी। हालांकि शिवपाल सिंह यादव ने अभी समाजवादी पार्टी से खुद को पूरी तरह से अलग नहीं किया है। 

 

नए मोर्चे के गठन के बाद सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेता ओमप्रकाश राजभर ने भी उनसे मुलाकात की थी। शिवपाल के नए मोर्चे से समाजवादी समर्थक अब दो खेमों में बंटने लगे हैं। हालांकि नए मोर्चा के गठन से समाजवादी पार्टी में थोड़ी खलबली तो मची है। 

Todays Beets: