Friday, July 20, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

आफत की बारिश- हैदराबाद में झील का पानी भी रिहायशी इलाकों में घुसा, लोग घरों में कैद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आफत की बारिश- हैदराबाद में झील का पानी भी रिहायशी इलाकों में घुसा, लोग घरों में कैद

हैदाराबाद । आंध्र प्रदेश के हैदराबाद में भारी बारिश के चलते लोगों की जान पर बन आई है। एक बार फिर मंगलवार को राज्य में जोरदार बारिश हुई, जिसके चलते पहले से पानी में डूबी सड़कों पर पानी का स्तर और बढ़ गया। इस दौरान खतरनाक बात यह है कि हैदराबाद की रामनाथपुर झील का पानी भी झील के निकट के इलाके में भरना शुरू हो गया है। ऐसी स्थिति में लोग अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं। लोग बाहर आने के लिए छोटी नाव की मदद ले रहे हैं। शहर में एक बार फिर भारी बारिश होने से कई इलाकों में पानी भर गया। अब तक मिली खबरों के मुताबिक शहर के सीमांत पटनचेरू और अमीनपुरा मंडलों में भारी बारिश हुई है, जिससे आस-पास के निचले क्षेत्रों में पानी भर गया है।

बता दें कि पिछले कुछ दिनों में हैदराबाद में हुई बारिश के चलते लोगों पर 'आफत का पहाड़' टूट पड़ा है। हैदराबाद में पिछले दिनों हुई बारिश में तीन लोगों की मौत की खबर थी। मरने वाले में एक 28 साल का आदमी और उसका 6 महीने का बेटा था। दोनों की मौत बंजारा हिल्स में उनके ऊपर दीवार के गिरने से हुई थी। जबकि चारमीनार इलाके में करेंट लगने से एक शख्स की मौत हो गई थी। इसी तरह, संगारेड्डी जिले के रामचंद्रापुरम राष्ट्रीय राजमार्ग पर नागुलम्मा मंदिर के पास भारी मात्रा में बाढ़ का पानी जमा हो गया है। नगर के बेगमपेट, सिकंदराबाद, रसूलपुरा, चिलकलगुड़ा, आलुगड्डा, मेट्टुगुड़ा, उप्पल आदि इलाकों में बारिश होने से यातायात बुरी तरह से प्रभावित हुई है।


बेगमपेट फ्लाईओवर के रास्ते पीएनटी फ्लाईओवर. रसूलपुरा, सीटीओ फ्लाईओवर, प्लाजा एक्सरोड, वाईएमसीए फ्लाईओवर, नॉर्थजोन डीसीपी कार्यालय के रास्ते वाहनों को छोड़ा जा रहा है। उसी प्रकार संगीत क्रास रोड, चिलकलगुड़ा रोटरी से आलुगड्डा बावी, मेट्टुगुड़ा जंक्शन तक यातायात प्रभावित हुआ है।

Todays Beets: