Sunday, January 21, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

बक्सर के डीएम ने गाजियाबाद में की आत्महत्या, सुसाइड नोट में पत्नी और माता—पिता के बीच झगड़े को बताया वजह

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बक्सर के डीएम ने गाजियाबाद में की आत्महत्या, सुसाइड नोट में पत्नी और माता—पिता के बीच झगड़े को बताया वजह

गाजियाबाद।

बक्सर (बिहार) के डीएम मुकेश पांडेय ने गुरुवार को गाजियाबाद में आत्महत्या कर ली। पहले वे दिल्ली के जनकपुरी स्थित एक मॉल की 10वीं मंजिल पर सुसाइड करने के लिए पहुंचे थे। आत्महत्या के पहले डीएम ने एक परिचित को अपने इस कदम की जानकारी व्हाट्सएप पर दी। परिचित ने इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस को दी। पुलिस जब तक मुकेश पांडे को पकड़ पाती, वे वहां से गाजियाबाद चले गए और ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी।

जानकारी के अनुसार, डीएम की लाश गाजियाबाद स्टेशन से 200 मीटर आगे यार्ड में रेलवे ट्रैक पर मिली। उनकी जेब से पर्स और सुसाइड नोट बरामद हुआ। सुसाइड नोट में उन्होंने अपनी मौत के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया है। सुसाइड नोट में एक जगह लिखा है कि विस्तृत सुसाइड नोट बैग में है। उन्होंने लिखा, वह बैग दिल्ली के लीला पैलेस होटल के कमरा नंबर-742 में है। लीला होटल से मिले सुसाइड नोट में लिखा है कि मैं अपनी पत्नी और अपने मां-बाप के बीच हो रहे झगड़े से बेहद परेशान हूं, इस वजह से यह कदम उठा रहा हूं।


बता दें कि मुकेश पांडे बुधवार देर रात बक्सर से दिल्ली के लिए निकले थे। सूत्रों की मानें तो दिल्ली आने के पीछे उन्होंने वजह बताई थी कि उनके मामा को हार्ट अटैक आया है। दिल्ली पहुंचने के लगभग 14 घंटे बाद मुकेश पांडे ने ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी कर ली। 2012 बैच के आइएएस अफसर मुकेश इससे पहले कटिहार के डीडीसी के पद पर कार्यरत थे। तीन अगस्त को ही उन्होंने बक्सर के डीएम का पद संभाला था।

 

 

 

Todays Beets: