Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

विचाराधीन कैंदी तिहाड़ जेल में ले रहे ऐशो-आराम का लुफ्त

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विचाराधीन कैंदी तिहाड़ जेल में ले रहे ऐशो-आराम का लुफ्त

नई दिल्ली। देश के सबसे बडे जेल तिहाड़ में कैदियों को दी जाने वाली सुविधाओं को लेकर एक नया मामला सामने आया है। तिहाड़ जेल में कुछ विचाराधीन कैदियों के रुम में दो एयरकंडिशनर मिले हैं। नामी बिल्डर बताए जा रहे इन कैदियों के कमरों में और भी कई प्रकार की प्रतिबंधित चीजें मिली हैं। खबरों के अनुसार ये अपराधी जेल का पानी न पी कर 2 हजार रुपये प्रति लीटर वाला विदेशी ब्रैंड का पानी पीते हैं।

अडिशनल आईजी राजकुमार का कहना है कि अगर जांच के दौरान पता चला कि कमरों में  एसी की इजाजत सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी थी तो इस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। खबरों के अनुसार ये सारा सामान जेल के कमरा नंबर 1 में मिला है। कैंदियों के कमरो में 10 जोड़ी जूते, विदेशी परफ्यूम, पैक्ड खाने जैसी चीजें मिली हैं। इस मामले में जेल प्रशासन की लापरवाही भी सामने आई है। जेल के गेट पर तैनात पुलिसकर्मी उनकी कार की चैकिंग नहीं करते थे।


सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर कैदियों के कमरे में 3 ऐसी अलमारियां भी मिली हैं, जिन्हें खोला नहीं जा सका है। जांच के दौरान कैदियों ने चाबी नहीं होने का हवाला देते हुए अलमारियां खोलने से इंकार कर दिया। 

इस दौरान ये भी पता लगा था कि कुछ कैदी जेल के अंदर चिकन-मटन की पार्टीकर रहे थे। इसके बाद तिहाड़ जेल प्रशसन ने इस मामले की जांच डीआईजी एसएस परिहार को सौपी। जांच की रिपोर्ट अगले सप्ताह तक आने की उम्मीद है।यहां बता दे कि बुधवार को भी एक कार के अंदर कुछ चीजें मिली थीं। सूत्रों का कहना है कि जेल कैंपस में कार में भरकर कोई भी कुछ चीजें ले आता है और गेट पर ठीक से जांच नहीं की जाती।

Todays Beets: