Monday, September 25, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

उपराज्यपाल और दिल्ली सरकार में फिर मतभेद, सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा 'सर वो विधायक हैं, चोर नहीं'

अंग्वाल संवाददाता
उपराज्यपाल और दिल्ली सरकार में फिर मतभेद, सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा

नई दिल्ली। एक बार फिर दिल्ली सरकार और एलजी के बीच मतभेद का मामला सामने आ रहा है। मोहल्ला क्लीनिक की फाइल मंजूरी को लेकर सौरभ भारद्वाज के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी के 45 विधायक बुधवार को एलजी के घर में 7 घंटे तक बैठे रहे। उन्हें हटाने के लिए पुलिस को बुलाया गया तथा बिजली की कौटती कर दी गई। तब जाकर विधायक एलजी निवास से गए। इस मामले में सीएम केजरीवाल, स्वास्थ्य मंत्री  और एलजी के बीच बैठक होगी।इस मुद्दे पर अरविंद केजरीवाल ने दो ट्वीट को री-ट्वीट भी किया है। एक ट्वीट में उन्हें एलजी के पुलिस बुलाने पर री-ट्वीट में लिखा सर वो विधायक है, चोर नहीं। साथ ही लिखा जनतंत्र संवाद से चलता है, पुलिस से नहीं।

यह भी पढ़े- मैरिटल रेप पर बहस के लिए तैयार है दिल्ली हाई कोर्ट, 4 सितंबर को होगी अगली सुनवाई 

एलजी दफ्तर की ओर दावा किया जा रहा है कि मोहल्ला क्लीनिक से जुड़ी कोई फाइल एलजी के पास लंबित नहीं है। इस पर सीएम केजरीवाल का कहना है कि 'ये 2 करोड़ दिल्लीवासियों के स्वास्थ्य का मामला है। इस मामले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। उपराज्यपाल जल्द ही मोहल्ला क्लीनिक से जुड़ी फाइलों को मंजूरी दें।' 

यह भी पढ़े- पीएम मोदी ने आला अधिकारियों से की मुलाकात, शासन प्रक्रिया में सुधार लाने का किया आग्रह


वहीं दूसरे ट्वीट में सीएम केजरीवाल ने लिखा , 'देरी के कारण नागरिकों को परेशानी सहनी पड़ रही है। उपराज्यपाल को सभी संबंधित अधिकारियों से बात करनी चाहिए और बाधा को दूर करना चाहिए। अगर उपराज्यपाल चाहें तो मैं अपने मंत्रियों के साथ राज निवास आने के लिए तैयार हूं।' 

यह भी पढ़े- पूर्व पाक राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने दाऊद इब्राहिम के पाकिस्तान में होने की ओर किया इशारा 

उपराज्यपाल कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया कि आप विधायक सौरभ भारद्वाज और अन्य चार विधायकों को मिलने के लिए समय दिया गया था, लेकिन भारद्वाज के नेतृत्व में करीब 45 विधायक राज निवास के समक्ष आ गए और उपराज्यपाल से मिलने की मांग करने लगे। वयस्त कार्यक्रम होने के वाबजूद भी उपराज्यपाल विधायकों से मिलने के लिए तैयार हो गए थे।   

Todays Beets: