Tuesday, November 20, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

उपराज्यपाल और दिल्ली सरकार में फिर मतभेद, सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा 'सर वो विधायक हैं, चोर नहीं'

अंग्वाल संवाददाता
उपराज्यपाल और दिल्ली सरकार में फिर मतभेद, सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा

नई दिल्ली। एक बार फिर दिल्ली सरकार और एलजी के बीच मतभेद का मामला सामने आ रहा है। मोहल्ला क्लीनिक की फाइल मंजूरी को लेकर सौरभ भारद्वाज के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी के 45 विधायक बुधवार को एलजी के घर में 7 घंटे तक बैठे रहे। उन्हें हटाने के लिए पुलिस को बुलाया गया तथा बिजली की कौटती कर दी गई। तब जाकर विधायक एलजी निवास से गए। इस मामले में सीएम केजरीवाल, स्वास्थ्य मंत्री  और एलजी के बीच बैठक होगी।इस मुद्दे पर अरविंद केजरीवाल ने दो ट्वीट को री-ट्वीट भी किया है। एक ट्वीट में उन्हें एलजी के पुलिस बुलाने पर री-ट्वीट में लिखा सर वो विधायक है, चोर नहीं। साथ ही लिखा जनतंत्र संवाद से चलता है, पुलिस से नहीं।

यह भी पढ़े- मैरिटल रेप पर बहस के लिए तैयार है दिल्ली हाई कोर्ट, 4 सितंबर को होगी अगली सुनवाई 

एलजी दफ्तर की ओर दावा किया जा रहा है कि मोहल्ला क्लीनिक से जुड़ी कोई फाइल एलजी के पास लंबित नहीं है। इस पर सीएम केजरीवाल का कहना है कि 'ये 2 करोड़ दिल्लीवासियों के स्वास्थ्य का मामला है। इस मामले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। उपराज्यपाल जल्द ही मोहल्ला क्लीनिक से जुड़ी फाइलों को मंजूरी दें।' 

यह भी पढ़े- पीएम मोदी ने आला अधिकारियों से की मुलाकात, शासन प्रक्रिया में सुधार लाने का किया आग्रह


वहीं दूसरे ट्वीट में सीएम केजरीवाल ने लिखा , 'देरी के कारण नागरिकों को परेशानी सहनी पड़ रही है। उपराज्यपाल को सभी संबंधित अधिकारियों से बात करनी चाहिए और बाधा को दूर करना चाहिए। अगर उपराज्यपाल चाहें तो मैं अपने मंत्रियों के साथ राज निवास आने के लिए तैयार हूं।' 

यह भी पढ़े- पूर्व पाक राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने दाऊद इब्राहिम के पाकिस्तान में होने की ओर किया इशारा 

उपराज्यपाल कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया कि आप विधायक सौरभ भारद्वाज और अन्य चार विधायकों को मिलने के लिए समय दिया गया था, लेकिन भारद्वाज के नेतृत्व में करीब 45 विधायक राज निवास के समक्ष आ गए और उपराज्यपाल से मिलने की मांग करने लगे। वयस्त कार्यक्रम होने के वाबजूद भी उपराज्यपाल विधायकों से मिलने के लिए तैयार हो गए थे।   

Todays Beets: