Friday, June 22, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

राज्य सम्पत्ति विभाग के नोटिस के बाद , मायावती ने किया सरकारी बंगला खाली

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य सम्पत्ति विभाग के नोटिस के बाद , मायावती ने किया सरकारी बंगला खाली

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के आदेश और राज्य सम्पति विभाग के नोटिस के बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों पर असर दिख रहा है। उस के माध्य नजर बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने 6, लाल बहादुर शास्त्री मार्ग पर स्थित अपने सरकारी बंगले को खाली कर बंगले की चाबी को स्पीड पोस्ट से राज्य संपत्ति अधिकारी को भेज दी है।

 मायावती के निजी सचिव मेवालाल गौतम ने बताया कि बंगले की चाबियों को इसलिए स्पीड पोस्ट से भेजा गया, क्योंकि अवर अभियंता ने चाबी लेने से इंकार कर दिया था। मेवालाल गौतम ने कहा कि अवर अभियंता ने यह कह कर चाबी और पत्र लेने से माना कर दिया कि कब्जा लेने का काम अवर अभियंता लोक निर्माण करता है इसलिए चाबी और पत्र वह नहीं ले सकते हैं। इस बात से नाराज होकर मायावती ने चाबी और पत्र राज्य संपत्ति अधिकारी को स्पीड पोस्ट से भेज दी।


मायावती ने राज्य संपत्ति अधिकारी को पत्र लिखकर बंगले में रखी चीजों के बारे में भी बताया है। मायावती ने कहा है कि 23 दिसम्बर 2011 को बतौर मुख्यमंत्री उन्हें यह बंगला दिया गया था, उस समय इस बंगले में जनरेटर, पंखे, एसी, साउंड सिस्टम, टयूबलाइट, फायर फाइटिंग सिस्टम, ट्रासफार्मर, बिजली पैनल लगे हुए थे, जो अब भी अच्छी स्थिति में वैसे ही लगे हुए हैं और इस के अलावा उन्हें कोई भी चीज नहीं दी गई थी।        

Todays Beets: