Wednesday, June 20, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

राजस्थान के नौजवान भुगत रहे असमान लिंगानुपात का खामियाजा, दूसरे राज्यों से खरीद रहे दुल्हन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राजस्थान के नौजवान भुगत रहे असमान लिंगानुपात का खामियाजा, दूसरे राज्यों से खरीद रहे दुल्हन

जयपुर। ‘दुल्हा बिकता है बोलो खरीदोगे’ यह बात तो आपने जरूर सुनी होगी पर क्या आपने ऐसा सुना है कि दुल्हन बिकाऊ है! देश के कई राज्यों में असमान लिंगानुपात के चलते आज ऐसी ही स्थिति हो गई है। इस वजह से लड़के और लड़कियों की शादियां होनी मुश्किल हो रही है। राजस्थान में तो लड़के और लड़कियों के अनुपात में इतनी असमानता है कि यहां दूसरे राज्यों से दुल्हन के रूप में 50 हजार से एक लाख रुपये मंे लड़कियां खरीदनी पड़ रही है। इस तरह की शादियां बिचैलियों के माध्यम से कराई जा रही हैं। 

बिचौलिए करा रहे शादी

गौरतलब है कि राजस्थान के कई इलाकों में लड़कियों का भारी टोटा है। इस वजह से नौजवानों के सामने शादी न होने की समस्या खड़ी हो गई है। यहां के कोटा, झालावर, बूंदी और बारन इलाके में दुल्हन खरीदकर शादियों का चलन गुप्त रूप से बढ़ रहा है। खासकर संपन्न परिवारों में गांवों और कस्बों में इस तरह की शादियां काफी देखने को मिल रही हैं। इस तरह की शादियां बिचैलियों के माध्यम से कराई जा रही हैं। वे योग्य लड़कों की तलाश में रहते हैं और पता चलते ही लड़की के घरवालांे की बता देते हैं कि उन्हें अच्छी रकम मिलने वाली है। 

ये भी पढ़ें -  गंगा में प्रदूषण फैलाने वालों चलेगा एनजीटी का डंडा, देना होगा 50 हजार रुपये का जुर्माना 

दूसरे राज्यों से खरीदी जा रहीं लड़कियां


बिचैलियों का कहना है कि इस तरह की शादी में कोई बुराई नहीं है क्योंकि इसमें दोनों परिवारों की सहमति के बाद ही शादी कराई जाती है। शादी के लिए ज्यादातर लड़कियां मध्य प्रदेश, बिहार और झारखंड से बेचने के लिए लाई जाती हैं, लेकिन अब यहां राजस्थान में भी अब लड़कियां उपलब्ध होने लगी हैं। ब्राह्मण, जैन, बनिया और माहेश्वरी समुदाय में इस तरह की शादियां ज्यादा हो रही हैं। 

ऐसी शादी के नुकसान

दूसरे राज्यों से लड़की खरीद कर कराई जाने वाली शादियों के साइड इफैक्ट भी देखने में आ रहे हैं। इनमें कई ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जिसमें दुल्हन शादी के कुछ ही दिनों के बाद सामान के साथ फरार हो गई है। अगर दुल्हन खरीदकर होने वाली शादियां सफल रहती हैं तो इसमें कोई बुराई नहीं है। इससे गरीब परिवारों से ताल्लुक रखने वाली अच्छी लड़कियों का भला ही होगा। 

 

Todays Beets: