Monday, December 11, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

राजस्थान के नौजवान भुगत रहे असमान लिंगानुपात का खामियाजा, दूसरे राज्यों से खरीद रहे दुल्हन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राजस्थान के नौजवान भुगत रहे असमान लिंगानुपात का खामियाजा, दूसरे राज्यों से खरीद रहे दुल्हन

जयपुर। ‘दुल्हा बिकता है बोलो खरीदोगे’ यह बात तो आपने जरूर सुनी होगी पर क्या आपने ऐसा सुना है कि दुल्हन बिकाऊ है! देश के कई राज्यों में असमान लिंगानुपात के चलते आज ऐसी ही स्थिति हो गई है। इस वजह से लड़के और लड़कियों की शादियां होनी मुश्किल हो रही है। राजस्थान में तो लड़के और लड़कियों के अनुपात में इतनी असमानता है कि यहां दूसरे राज्यों से दुल्हन के रूप में 50 हजार से एक लाख रुपये मंे लड़कियां खरीदनी पड़ रही है। इस तरह की शादियां बिचैलियों के माध्यम से कराई जा रही हैं। 

बिचौलिए करा रहे शादी

गौरतलब है कि राजस्थान के कई इलाकों में लड़कियों का भारी टोटा है। इस वजह से नौजवानों के सामने शादी न होने की समस्या खड़ी हो गई है। यहां के कोटा, झालावर, बूंदी और बारन इलाके में दुल्हन खरीदकर शादियों का चलन गुप्त रूप से बढ़ रहा है। खासकर संपन्न परिवारों में गांवों और कस्बों में इस तरह की शादियां काफी देखने को मिल रही हैं। इस तरह की शादियां बिचैलियों के माध्यम से कराई जा रही हैं। वे योग्य लड़कों की तलाश में रहते हैं और पता चलते ही लड़की के घरवालांे की बता देते हैं कि उन्हें अच्छी रकम मिलने वाली है। 

ये भी पढ़ें -  गंगा में प्रदूषण फैलाने वालों चलेगा एनजीटी का डंडा, देना होगा 50 हजार रुपये का जुर्माना 

दूसरे राज्यों से खरीदी जा रहीं लड़कियां


बिचैलियों का कहना है कि इस तरह की शादी में कोई बुराई नहीं है क्योंकि इसमें दोनों परिवारों की सहमति के बाद ही शादी कराई जाती है। शादी के लिए ज्यादातर लड़कियां मध्य प्रदेश, बिहार और झारखंड से बेचने के लिए लाई जाती हैं, लेकिन अब यहां राजस्थान में भी अब लड़कियां उपलब्ध होने लगी हैं। ब्राह्मण, जैन, बनिया और माहेश्वरी समुदाय में इस तरह की शादियां ज्यादा हो रही हैं। 

ऐसी शादी के नुकसान

दूसरे राज्यों से लड़की खरीद कर कराई जाने वाली शादियों के साइड इफैक्ट भी देखने में आ रहे हैं। इनमें कई ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जिसमें दुल्हन शादी के कुछ ही दिनों के बाद सामान के साथ फरार हो गई है। अगर दुल्हन खरीदकर होने वाली शादियां सफल रहती हैं तो इसमें कोई बुराई नहीं है। इससे गरीब परिवारों से ताल्लुक रखने वाली अच्छी लड़कियों का भला ही होगा। 

 

Todays Beets: