Wednesday, October 24, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

गोरखपुर के बाद फर्रुखाबाद से 49 बच्चों की मौत का मामला आया सामने, ऑक्सीजन-दवा की कमी है वजह 

अंग्वाल संवाददाता
गोरखपुर के बाद फर्रुखाबाद से 49 बच्चों की मौत का मामला आया सामने, ऑक्सीजन-दवा की कमी है वजह 

लखनऊ। यूपी के फर्रुखाबाद से गोरखपुर जैसे बच्चों की मौत का मामला सामने आया है। यहां भी ऑक्सीजन और दवाइयों की कमी के चलते 49 बच्चों की मौत हो गई। फर्रुखाबाद के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में 30 दिन में 49 बच्चों की मौत पर जिला प्रशासन ने जांच के बाद, मामले में रिपोर्ट दर्ज करा दी है। जांच में बच्चों की मौत का कारण इलाज में लापरवाही होना पाया गया है। रिपोर्ट के अनुसार, फर्रुखाबाद के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में 20 जुलाई से लेकर 21 अगस्त तक 49 बच्चों की मौत का आंकड़ा सामने आया था, जिसमें से 19 बच्चों की मौत प्रसव के दौरान और 30 बच्चों की मौत केयर यूनिट में इलाज के दौरान हुई थी। इस मामले में जिला प्रशासन ने पैनल से जांच कराई थी, जिसमें सिटी मजिस्ट्रेट एसडीएम व लहसीलदार ने संयुक्त जांच की। वहीं एफआईआर  के विरोध अस्पताल के डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। 

यह भी पढ़े-  'बिहार में लाखों लीटर शराब पीने वाले चूहों की वजह से बिहार में आई बाढ़'

 


 अभी तक जांच में इस बात का खुलासा नहीं हो सका हैं कि अस्पताल में हुई बच्चों की मौत इलाज के दौरान ऑक्सीजन और दवाओं की कमी व लापरवाही के चलते हुई है। इस मामले में जांच रिपोर्ट के आधार पर मजिस्ट्रेट ने फर्रुखाबाद कोतवाली में सीएमओ और राम मनोहर लोहिया अस्पताल के सीएमएस व डॉक्टर के खिलाफ धारा 176, 188 और 304 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है। डीएम ने एफआईआर के बाद सीएमओ और सीएमएस को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है। 

यह भी पढ़े- क्लास में साथी से हुआ झगड़ा तो मार दी गोली, देखें घटना का पूरा वीडियो...

Todays Beets: