Tuesday, October 4, 2022

Breaking News

   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||

केजरीवाल बोले - हम दिल्ली में झीलें बना रहे हैं , ये लोग कूड़े के 16 पहाड़ बनाना चाहते हैं , जनता राहत चाहती है 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केजरीवाल बोले - हम दिल्ली में झीलें बना रहे हैं , ये लोग कूड़े के 16 पहाड़ बनाना चाहते हैं , जनता राहत चाहती है 

नई दिल्ली । दिल्ली नगर निगम चुनावों से पहले एक बार फिर से राष्ट्रीय राजधानी के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए हैं । दिल्ली नगर निगम पर काबिज भाजपा पर आरोप लगाए हुए केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि भलस्वा,  गाजीपुर और ओखला के अलावा दिल्ली में अब नगर निगम 16 कूड़े के पहाड़ बनाने जा रही है । सीएम ने कहा कि वे दिल्ली को कूड़े के पहाड़ों की राजधानी बनाना चाहते हैं । केजरीवाल ने एक पत्रकार वार्ता में कहा हमारी सरकार ने दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी के क्षेत्र में बहुत काम किए हैं लेकिन दिल्ली में सफाई के हालात बहुत खराब हैं । चारों तरफ कूड़ा ही कूड़ा है ।  इसको लेकर शर्म भी आती है कि हमारी दिल्ली इतनी गंदी क्यों हैं । लेकिन सुनने में आ रहा है कि ये लोग (दिल्ली नगर निगम की सत्तारूढ़ भाजपा) 16 और नए कूड़े के पहाड़ बनाने का प्लान कर रहे हैं । तब दिल्ली के हर इलाक़े में कूड़े का एक पहाड़ होगा । 24 घंटे बदबू, धुआं और मक्खी-मच्छर झेलने पड़ेंगे । दिल्ली कूड़े के पहाड़ों की राजधानी बन जाएगी।

उन्होंने कहा - खासकर भलस्वा,  गाजीपुर और ओखला में ये जो कूड़े के पहाड़ हैं , ये हमारे लिए शर्मा का कारण हैं । शर्म ही नहीं बल्कि इसके आसपास जो आबादी रहती है उसके लिए ये नरक के समान है । एक एक पहाड़ के आसपास कई-कई किलोमीटर तक इन कूड़े की बदबू पहुंचती है । कभी-कभी भी इन पहाड़ों में आग लग जाती है तो उसका धुआं चारों तरफ फैलता है ।  


वह बोले - हमारी कोशिश तो यह होनी चाहिए थी कि इन तीनों पहाड़ों को खत्म किया जाए।  विकसित देशों के जो शहर हैं वहां पर जो सोल्डि वेस्ट मेनेजमेंट की तकनीक है उसको  दिल्ली में लागू किया जाए लेकिन आज स्थिति ऐसी है कि हज़ारों करोड़ ख़र्च करके भी इन 3 पहाड़ों की ऊंचाई बढ़ रही है । 

मुख्यमंत्री ने कहा, “ एक तरफ़ हमने दिल्ली में 500 ऊंचे-ऊंचे तिरंगे लगाए, आज दिल्ली तिरंगों का शहर माना जाता है । हम दिल्ली में बड़ी-बड़ी झीलें बना रहे हैं, हम देश की राजधानी का सौंदर्यीकरण कर रहे हैं दूसरी तरफ बाजपा शासित एमसीडी दिल्ली को कूड़े के पहाड़ों की राजधानी बना रही है । दिल्ली के लोग और 16 पहाड़ नहीं चाहते । वो चाहते हैं पुराने 3 भी ख़त्म हों।

Todays Beets: