Sunday, November 17, 2019

Breaking News

   INX मीडिया केस: पी चिदंबरम को झटका, दिल्ली हाईकोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका     ||   वकील VS पुलिस मामला: HC ने कहा- जांच पूरी होने तक पुलिस पक्ष से नहीं होगी गिरफ्तारी     ||   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||

लोकसभा चुनाव से पहले टीएमसी को झटका, सौमित्र खान ने ‘दीदी’ का साथ छोड़कर थामा भाजपा का दामन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लोकसभा चुनाव से पहले टीएमसी को झटका, सौमित्र खान ने ‘दीदी’ का साथ छोड़कर थामा भाजपा का दामन

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल की ममता सरकार को एक बड़ा झटका लगा है। विष्णुपुर से तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौमित्र खान बुधवार को दीदी का साथ छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। नई दिल्ली में भाजपाध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात करने के बाद उन्होंने भाजपा में शामिल होने का ऐलान किया। सौमित्र खान पार्टी के नेता धर्मेंद्र प्रधान और तृणमूल कांग्रेस से कुछ समय पहले भाजपा में शामिल हुए मुकुल राॅय की उपस्थिति में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। 

गौरतलब है कि भाजपा पश्चिम बंगाल में अपना दायरा बढ़ाने में जुटी है। इसी वजह से भाजपाध्यक्ष प्रदेश में रथ यात्रा निकालना चाह रहे थे लेकिन उनकी यात्रा को हाईकोर्ट से मंजूरी नहीं मिली। ममता बनर्जी सरकार लगातार भाजपा और केन्द्र सरकार पर हमलावर रही है। पंचायत चुनाव के दौरान भारी हिंसा हुई थी। इसके साथ ही इसमें भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के नेताओं की हत्या भी कर दी थी। 

ये भी पढ़ें - LIVE: सवर्ण आरक्षण बिल पर राज्यसभा में आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी, सपा, बसपा के साथ कांग्रेस...


यहां बता दें कि प्रदेश सरकार की नीतियों से नाराज होकर ममता सरकार में नंबर 2 का दर्जा रखने वाले मुकुल राॅय ने भी उनका साथ छोड़ दिया और भाजपा का दामन थाम लिया था। अब सौमित्र खान के भाजपा में आने से राज्य में उसकी स्थिति और मजबूत होने की संभावना बढ़ गई है। 

 

Todays Beets: